1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. पश्चिम बंगाल चुनाव: खड़गपुर पीएम मोदी ने कहा-दीदी को बंगाल के भविष्य के साथ खेलने नहीं देंगे

पश्चिम बंगाल चुनाव: खड़गपुर पीएम मोदी ने कहा-दीदी को बंगाल के भविष्य के साथ खेलने नहीं देंगे

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में पीएम नरेंद्र मोदी ने आज खड़गपुर की रैली में भाजपा कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र दिया। भारी भीड़ से भरी एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने टीएमसी पर जम प्रहार किया। उन्होंने कहा मै इस धरती का वंदन करता हूं इतनी बड़ी संख्या में आप सब आशीर्वाद देने आएं है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

West Bengal Elections Kharagpur Pm Modi Said Didi Will Not Let Didi Play With Bengals Future

खड़गपुर। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में पीएम नरेंद्र मोदी ने आज खड़गपुर की रैली में भाजपा कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र दिया। भारी भीड़ से भरी एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने टीएमसी पर जम प्रहार किया। उन्होंने कहा मै इस धरती का वंदन करता हूं इतनी बड़ी संख्या में आप सब आशीर्वाद देने आएं है। इस बार बंगाल में बीजेपी की सरकार तय है। हमारे 130 कार्यकर्ताओं ने अपना बलिदान दिया। हमारे पास दिलीप घोष जैसे अध्यक्ष हैं।

पढ़ें :- सचिन पायलट को बीजेपी का ऑफर, 'इंडिया फर्स्ट' को प्राथमिकता देने वालों का है स्वागत

दिलीप घोष पर अनेक हमले हुए वे डरे नहीं। पीएम ने कहा कि खड़कपुर के इस क्षेत्र में मिनी भारत की झलक मिली है। लम्बा रेलवे प्लेटफार्म यहां की आईआईटी यहां के गौरव पूर्ण इतिहास की याद दिलाती है। आपने कांग्रेस टीएमसी को देखा है। आपने 70 साल से सबको मौका दिया है हमें एक बार आशीर्वाद दीजिये। हम बंगाल को बना कर दिखा देंगे। पीएम ने कहा कि, सिंचाई सुविधाएं बढ़ाई जाएगी। कोल्ड स्टोरेज को बढ़ाया जाएगा। हम इस क्षेत्र में शुद्ध जल की व्यवस्था करेंगे।

बीजेपी जनसंघ से निकली पार्टी है। जनसंघ के जन्मदाता श्यामा प्रसाद मुखर्जी हैं। बीजेपी के डीएनए में डॉ श्यामा प्रसाद के आचार विचार व्यवहार दिखाई दिया। केंद्र और राज्य की सरकार मिलकर डबल इंजन की सरकार बनेगी। बंगाल में भी दिल्ली की ताकत और बंगाल की ताकत दोनों मिल कर विकास करेंगे। यहां दीदी विकास की हर योजना के सामने दीवार बनकर खड़ी हुई हैं। दीदी ने आपके साथ विश्वासघात किया। बंगाल के लोगों ने दीदी को 10 साल तक का मौका दिया था लेकिन यहां क्या हुआ बंगाल में कट मनी बंद होना चहिए। बंगाल में 50-55 साल से विश्वास ही डाउन हो गया है।

पीएम ने कहा कि यहां तुष्टिकरण की राजनीति ने आदिवासी, पिछड़े, गरीबों का हक छीना है। दीदी की पाठशाला में सिंडीकेट, तोल बाजी है। दीदी को बंगाल के भविष्य के साथ खेलने नहीं देंगे। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि शिक्षा को लेकर दीदी ने चयन में अपने कॉडर को लगा दिया।

नई शिक्षा नीति को लेकर पीएम ने कहा गांव और गरीब का बच्चा भी डॉक्टर, इंजीनियर बनना चहिए। स्थानीय भाषा में शिक्षा को लेकर दीदी नई शिक्षा नीति का विरोध कर रहीं हैं। वो कहती हैं खेला होबे, पूरा बंगाल कह रहा है खेला शेष होबे, विकास होबे। यहां पर सिर्फ माफिया उद्योग चल रहा है। बंगाल बीजेपी की सरकार आने के बाद ये सब बंद किया जाएगा।

पढ़ें :- केन्द्र सरकार महंगाई की रोकथाम के प्रति है उदासीन : मायावती

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X