Toilet में बैठने के बाद अक्सर क्या सोचती हैं लड़कियां?

Bathroom

What Girls Think Toilet

कहते हैं कि सबसे ज्यादा ख्याल तब आता है जब हम टॉयलेट जाते हैं. ये तो आप भी मानते होंगे, लेकिन औरों में और लड़कियों में फर्क है. लड़कियां जब टॉयलेट जाती हैं, तो क्या सोचती हैं.

टॉयलेट जाने के बाद उनके दिमाग में क्या चलता है? आइये जानते हैं.

लड़कियों का दिमाग वैसे तो बिलकुल नहीं चलता, ऐसा लोग कहते हैं, जो सच नहीं है, हाँ, लेकिन टॉयलेट में जाने के बाद लड़कियां कुछ अलग ही सोचती हैं.

लड़कियां टॉयलेट जाने के बाद सबसे पहले दरवाज़े को कई बार चेक करती हैं. उनेहं ऐसा लगता है कि कहीं कोई दरवाज़ा न खोल दे. लड़कियां जब टॉयलेट सीट पर बैठती हैं, तो उन्हें ऐसा लगता है कि कहीं कमोड से कहीं कोई कीड़ा न आ जाए. उन्हें हमेशा ऐसा लगता रहता है कि कहीं कमोड में पानी न रहा तो वो बाहर कैसे जाएंगी. टिशु पेपर ख़त्म हो गया तब क्या होगा? अगर लड़कियों ने इंडियन ड्रेस पहना है, तो सोचती हैं कि कहीं अगर उनसे सलवार का नाडा बंद नहीं हुआ तो क्या होगा?

टॉयलेट जाने के बाद लड़कियां सोचती हैं कि कहीं कोई कैमरा तो नहीं. अपने घर के टॉयलेट में बैठने के बाद भी वो बार बार खिडकियों के बारे मने सोचती हैं. जो लड़कियां अपने घर में अकेले रहती हैं, वो टॉयलेट में जाने के बाद ये सोचती हैं कि इस दौरान अगर कोई उनके घर का दरवाज़ा खोलकर अंदर आ गया तो क्या होगा.

टॉयलेट में जाने के बाद लड़कियों की ये सोच बड़ी दिलचस्प है. वो हमेशा उल्टी-सीधी बातें सोचती रहती हैं.

कहते हैं कि सबसे ज्यादा ख्याल तब आता है जब हम टॉयलेट जाते हैं. ये तो आप भी मानते होंगे, लेकिन औरों में और लड़कियों में फर्क है. लड़कियां जब टॉयलेट जाती हैं, तो क्या सोचती हैं. टॉयलेट जाने के बाद उनके दिमाग में क्या चलता है? आइये जानते हैं. लड़कियों का दिमाग वैसे तो बिलकुल नहीं चलता, ऐसा लोग कहते हैं, जो सच नहीं है, हाँ, लेकिन टॉयलेट में जाने के बाद लड़कियां कुछ अलग ही सोचती हैं. लड़कियां…