जाने कोरोना वायरस के इंफ़ेक्शन से बचने के उपाय और इसके लक्षण

लखनऊ पहुंचा कोरोना वायरस, शंघाई से आई महिला में मिले संदिग्ध लक्षण
लखनऊ पहुंचा कोरोना वायरस, शंघाई से आई महिला में मिले संदिग्ध लक्षण

लखनऊ। चीन से फैले कोरोना वायरस ने अब भारत में भी दस्तक दे दी है। दिल्ली और बिहार समेत कुछ राज्यों में इस वायरस के संदिग्ध पाए गए हैं और इसे लेकर अब भारत में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है। दरअसल सांसों की तकलीफ़ बढ़ाने वाले इस वायरस की पहचान चाइना के वुहान शहर में पहली बार हुई। तेज़ी से फैलने वाला ये संक्रमण निमोनिया जैसे लक्षण पैदा करता है। वैसे इसके शुरुआती लक्षणों से इस वायरस का अंदाजा लगाया जा सकता है वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन ने प्रभावित इलाके के लोगों को पहले से निर्धारित सामान्य एहतियाती उपाय बरतने की सलाह दी है ताकि संक्रमण के ख़तरे को कम किया जा सके। आइए जानते हैं इसके लक्षण और इससे बचने के उपाय के बारे में….

What Is Corona Virus And Its Symptoms :

कोरोना वायरस के लक्षण

  • इसकी शुरुआत बुखार से होती है और फिर उसके बाद सूखी खांसी का हमला होता है. हफ़्ते भर तक ऐसी ही स्थिति रही तो सांस की तकलीफ़ शुरू हो जाती है।
  • गंभीर मामलों में ये संक्रमण निमोनिया या सार्स बन जाता है, किडनी फेल होने की स्थिति बन जाती है और मरीज़ की मौत तक हो सकती है।
  • कोरोना के ज़्यादातर मरीज़ उम्रदराज़ लोग हैं, ख़ासकर वो जो पहले से ही पार्किंसन या डायबिटिज़ जैसी बीमारियों से जूझ रहे हों।

बचने के लिए कर सकते हैं ये उपाय

  • इन उपायों में हाथ साफ़ रखना, मास्क पहनना और खान-पान की सलाह शामिल है।
  • सांसों की किसी तकलीफ़ से संक्रमित मरीज़ों के क़रीब जाने से लोगों को बचने की सलाह दी गई है।
  • नियमित रूप से हाथ साफ़ करते रहें, ख़ासकर किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के फौरन बाद, पालतू या जंगली जानवरों से दूर रहने की सलाह भी दी गई है।
  • कच्चा या अधपका मांस खाने से मना भी किया गया है।
  • कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को छींक आने की सूरत में सामने खड़े लोगों को बचाने की सलाह दी गई है, जैसे नाक पर कपड़ा या टिशू रखना, सामने खड़े व्यक्ति से फासला बनाकर रखना, नियमित रूप से साफ़ सफ़ाई जैसे एहतियात बरतने की उम्मीद की जाती है।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन को ऐसे साक्ष्य मिले हैं जिनमें क़रीब के लोगों के संक्रमित होने के मामलों की पुष्टि हुई है।
लखनऊ। चीन से फैले कोरोना वायरस ने अब भारत में भी दस्तक दे दी है। दिल्ली और बिहार समेत कुछ राज्यों में इस वायरस के संदिग्ध पाए गए हैं और इसे लेकर अब भारत में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है। दरअसल सांसों की तकलीफ़ बढ़ाने वाले इस वायरस की पहचान चाइना के वुहान शहर में पहली बार हुई। तेज़ी से फैलने वाला ये संक्रमण निमोनिया जैसे लक्षण पैदा करता है। वैसे इसके शुरुआती लक्षणों से इस वायरस का अंदाजा लगाया जा सकता है वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन ने प्रभावित इलाके के लोगों को पहले से निर्धारित सामान्य एहतियाती उपाय बरतने की सलाह दी है ताकि संक्रमण के ख़तरे को कम किया जा सके। आइए जानते हैं इसके लक्षण और इससे बचने के उपाय के बारे में.... कोरोना वायरस के लक्षण
  • इसकी शुरुआत बुखार से होती है और फिर उसके बाद सूखी खांसी का हमला होता है. हफ़्ते भर तक ऐसी ही स्थिति रही तो सांस की तकलीफ़ शुरू हो जाती है।
  • गंभीर मामलों में ये संक्रमण निमोनिया या सार्स बन जाता है, किडनी फेल होने की स्थिति बन जाती है और मरीज़ की मौत तक हो सकती है।
  • कोरोना के ज़्यादातर मरीज़ उम्रदराज़ लोग हैं, ख़ासकर वो जो पहले से ही पार्किंसन या डायबिटिज़ जैसी बीमारियों से जूझ रहे हों।
बचने के लिए कर सकते हैं ये उपाय
  • इन उपायों में हाथ साफ़ रखना, मास्क पहनना और खान-पान की सलाह शामिल है।
  • सांसों की किसी तकलीफ़ से संक्रमित मरीज़ों के क़रीब जाने से लोगों को बचने की सलाह दी गई है।
  • नियमित रूप से हाथ साफ़ करते रहें, ख़ासकर किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के फौरन बाद, पालतू या जंगली जानवरों से दूर रहने की सलाह भी दी गई है।
  • कच्चा या अधपका मांस खाने से मना भी किया गया है।
  • कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को छींक आने की सूरत में सामने खड़े लोगों को बचाने की सलाह दी गई है, जैसे नाक पर कपड़ा या टिशू रखना, सामने खड़े व्यक्ति से फासला बनाकर रखना, नियमित रूप से साफ़ सफ़ाई जैसे एहतियात बरतने की उम्मीद की जाती है।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन को ऐसे साक्ष्य मिले हैं जिनमें क़रीब के लोगों के संक्रमित होने के मामलों की पुष्टि हुई है।