1. हिन्दी समाचार
  2. लॉकडाउन से नहीं रुका कोरोना तो क्या है सरकार की तैयारी ?

लॉकडाउन से नहीं रुका कोरोना तो क्या है सरकार की तैयारी ?

What Is The Governments Preparation If Corona Did Not Stop With Lockdown

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: जानलेवा कोरोना का संक्रमण देश में कम होने का नाम नहीं ले रहा है। लॉकडाउन के बाद हालात बेहतर नहीं हो रहे हैं अगर इसके बाद भी कोरोना नहीं रुका तो आगे क्या होगा? कांग्रेस ने भी यही सवाल मोदी सरकार से पूछा है। कांग्रेस ने मंगलवार को पूछा कि अगर कोरोना को रोकने में लॉकडाउन कामयाब नहीं होता, जैसा दिख रहा है, तो सरकार के पास क्या रणनीति है?

पढ़ें :- भारत में गज़ब फीचर्स के साथ लॉन्च होगा Honor V40 5G, जानिए कीमत

कांग्रेस ने कहा कि राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कोरोना को रोकने का मसला उठाया था, लेकिन सरकार में बैठे लोगों ने इसे नजरअंदाज कर दिया है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन के विशेषज्ञों ने कहा कि कोरोना अचानक आएगा, जैसा सिंगापुर में हो रहा है। ऐसे में विपक्षी दलों से सलाह लेने में क्या हर्ज है।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि जब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतें इतनी कम होती हैं, तो छह साल के दौरान सरकार की ओर से दामों में 12 गुना बढ़ोतरी की गई और इससे 12 लाख करोड़ की अतिरिक्त कमाई हुई है। फिर भी इसका लाभ उपभोक्ताओं को नहीं दिया गया। मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए पवन खेड़ा ने कहा कि महामारी के दौरान देश भर से परेशान करने वाली खबरें आ रही हैं, बावजूद इसके सरकार कोई राहत नहीं दे रही है। सस्ते पेट्रोल-डीजल से किसानों, ट्रांसपोर्टरों को फायदा मिलेगा और इससे मध्यम वर्ग भी लाभान्वित होगा। हम जानना चाहते हैं कि इसका फायदा लोगों को सरकार क्यों नहीं दे रही है?

राहुल गांधी के ट्वीट का जिक्र करते हुए पवन खेड़ा ने कहा कि हमने प्रवासी मजदूरों को मील तक पैदल चलते देखा है। उनके पास खाना नहीं है। हमने सरकार से अपील की थी कि जो लोग भोजन के अधिकार के तहत अर्हता प्राप्त नहीं करते हैं, उन्हें भी भोजन दिया जाना चाहिए, लेकिन सरकार का निर्णय गरीबों के साथ मजाक है।

पढ़ें :- नसबंदी शिविर का आयोजन, ऑपरेशन के बाद खुले आसमान के नीचे महिलाओं को लेटाया

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...