1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. सियासी विवाद के बाद अखिलेश-शिवपाल की एक साथ तस्वीर के हैं क्या मायने? जानिए

सियासी विवाद के बाद अखिलेश-शिवपाल की एक साथ तस्वीर के हैं क्या मायने? जानिए

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के समय साथ आए चाचा शिवपाल और भतीजे अखिलेश यादव के बीच दूरियां  बढ़ती ही जा रही है. दोनों एक दूसरे पर जमकर निशाना भी साथ रहे थे.

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के समय साथ आए चाचा शिवपाल और भतीजे अखिलेश यादव के बीच दूरियां  बढ़ती ही जा रही है. दोनों एक दूसरे पर जमकर निशाना भी साथ रहे थे. कई मौकों पर शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव पर सीधा हमला बोला. इसके बाद से ही शिवपाल यादव के भाजपा में जाने की अटकलें शुरू हो गई थी.

पढ़ें :- IPS Transfer: यूपी पुलिस महकमें में बड़ा फेरबदल, 11 आईपीएस अफसरों के हुए तबादले

हालांकि, शिवपाल यादव ने इन अटकलों को विराम देते हुए अपनी पार्टी को मजबूत करने में जुट गए. इन सबके बीच अखिलेश यादव और शिवपाल यादव एक साथ नजर आए.  वायरल हो रही तस्वीर के बाद कई तरह की अटकलें शुरू हो गई हैं. कहा जा रहा है कि, दोनों नेताओं के बीच चल रहा विवाद अब कम हो गया है. इसके साथ ही कयास लगाए जाने लगे हैं कि दोनों नेता भविष्य में फिर एक साथ नज़र आ सकते हैं.

दरअसल, दोनों नेता उत्तर प्रदेश के पूर्व डीजीपी जगमोहन यादव के भतीजे की शादी में पहुंचे थे. दोनों वैवाहिक कार्यक्रम में आसपास बैठे नजर आए. हालांकि, मीडिया रिपोर्ट की माने तो दोनों नेताओं के बीच कोई बातचीत नहीं हुई. माना जा रहा है कि दोनों के बीच कड़वाहट अब भी बरकरार है. हालांकि, इस तस्वीर के कई और मायने भी निकाले जा रहे हैं.

वैसे तो इस तरह किसी शादी समारोह में नेताओं के बीच अनौपचारिक मुलाकात सामान्य बात है, लेकिन जिस तरह की कड़वाहट के बीच दोनों एक दूसरे के साथ बैठे नजर आए, उसने लोगों का ध्यान जरूर खींचा है. पार्टी सूत्रों का कहना है कि इस तस्वीर से कोई सियासी मायने तलाशना ठीक नहीं है.

पढ़ें :- मोदी जी और शाह जी आप भले दूध नहीं पीते, लेकिन देश के बच्चों को तो दूध पीना ज़रूरी है : अधीर रंजन चौधरी
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...