1. हिन्दी समाचार
  2. तकनीक
  3. 5G की सुपरस्पीड व आम आदमी की जिंदगी पर क्या होगाअसर ? इन सवालों के जवाब आपको यहां मिलेंगे

5G की सुपरस्पीड व आम आदमी की जिंदगी पर क्या होगाअसर ? इन सवालों के जवाब आपको यहां मिलेंगे

5G Spectrum Auction : 5G यानी 5वीं पीढ़ी या फिर 5वीं जनरेशन टेलीकॉम की दुनिया में इस वक्त मुख्य चर्चा का विषय है। लंबे इंतजार के बाद आखिरकार देश में 5जी स्पेक्ट्रम की ऑनलाइन (5G Spectrum Auction) नीलामी प्रक्रिया मंगलवार से शुरू हो गई है। इस नीलामी प्रक्रिया (Auction) में रिलायंस जियो (Reliance Jio) , भारती एयरटेल (Bharti Airtel), वोडाफोन आईडिया (Vodafone Idea) और अदानी समेत समेत चार कंपनियां शामिल हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

5G Spectrum Auction : 5G यानी 5वीं पीढ़ी या फिर 5वीं जनरेशन टेलीकॉम की दुनिया में इस वक्त मुख्य चर्चा का विषय है। लंबे इंतजार के बाद आखिरकार देश में 5जी स्पेक्ट्रम की ऑनलाइन (5G Spectrum Auction) नीलामी प्रक्रिया मंगलवार से शुरू हो गई है। इस नीलामी प्रक्रिया (Auction) में रिलायंस जियो (Reliance Jio) , भारती एयरटेल (Bharti Airtel), वोडाफोन आईडिया (Vodafone Idea) और अदानी समेत समेत चार कंपनियां शामिल हैं।

पढ़ें :- Jio 750 Plan : 90 दिनों की वैलिडिटी वाला प्लान देश खुशी से झूम उठे जियो यूजर्स, क्या आपने देखा?

5G के बाद क्या बदलेगा?
5जी में न सिर्फ आपको फास्ट इंटरनेट स्पीड मिलेगी। बल्कि कंज्यूमर्स को बेहतर कॉल और कनेक्टिविटी भी मिलेगी। कॉल ड्रॉप जैसी समस्याएं कम होंगी।

कितनी गीगाहर्ट्ज की नीलामी हो रही है?
सरकार ने 20 साल के लिए 72GHz की एयरवेव्स के 10 बैंड्स के लिए नीलामी शुरू की है। इसमें चार कंपनियों ने हिस्सा लिया है। सरकार ने बेस प्राइस 4.3 लाख करोड़ रुपये रखा है।

किन बैंड्स पर होगी नीलामी?

5G ऑक्शन में लो-बैंड एयरवेव्स (600 MHz, 700 MHz, 800 MHz, 900 MHz, 1800 MHz, 2100 MHz, 2300 MHz, 2500 MHz), मिड बैंड या फिर C-बैंड (3.3- 3.67Ghz) और हाई बैंड (26GHz) के लिए बोली लगेगी।

पढ़ें :- 5G स्पेक्ट्रम नीलामी में JIO ने लगाई सबसे अधिक बोली, 4G के मुकाबले 10 गुना अधिक तेज चलेगा इंटरनेट!

कौन कितने पैसे लगा रहा?

रिलायंस जियो इस ऑक्शन में सबसे बड़ी प्लेयर है. कंपनी ने 140 अरब रुपये डिपॉजिट किए हैं. वहीं भारती एयरटेल 55 अरब रुपये, वोडाफोन-आइडिया ने 22 अरब और अडानी डेटा नेटवर्क्स ने 1 अरब रुपये डिपॉजिट किए हैं।

पहली बार अडानी की एंट्री?

टेलीकॉम सेक्टर में पहली बार गौतम अडानी की एंट्री हो रही है। उनकी कंपनी अडानी डेटा नेटवर्क्स भी नीलामी में हिस्सा ले रही है। कंपनी ने 1 अरब रुपये की अग्रिम राशि डिपॉजिट की है।

क्या अडानी और अंबानी का मुकाबला होगा?

पढ़ें :- 5G Spectrum Auction : इन 13 शहरों में सबसे पहले मिलेगी 5G सर्विस, देखें पूरी लिस्ट

वैसे सीधे तौर पर तो ऐसा होता नहीं दिख रहा है। अडानी की कंपनी ने 1 अरब रुपये जमा किए हैं, जबकि अंबानी की जियो ने 140 अरब रुपये लगाए हैं। वहीं अडानी की कंपनी स्पेक्ट्रम का इस्तेमाल एयरपोर्ट, पोर्ट्स और लॉजिस्टिक को साइबर सिक्योरिटी प्रदान करने में करेगी।

 इतना हो-हल्ला क्यों?

दुनियाभर के कई देशों में 5G सर्विसेस लाइव हैं। एक ओर जहां भारत विश्व की बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हो रहा है। वहीं दूसरी तरफ टेक्नोलॉजी में पिछड़ना बड़ी दिक्कत हो सकती है। आने वाला वक्त टेक्नोलॉजी का है। आज के वक्त में भी हमारी लाइफ में इसका बड़ा रोल है।

5G में स्पीड?

5G स्पीड की बात करें तो इसमें 4G के मुकाबले 100 गुना ज्यादा तेज तक स्पीड मिलेगी। जहां 4G नेटवर्क पर यूजर्स को 100Mbps की स्पीड मिलती है, बल्कि 5G में यूजर्स को 10Gbps तक की स्पीड मिलेगी।

5G की कीमत?
5जी के लिए यूजर्स को कितने पैसे खर्च करने होंगे? ये अभी साफ नहीं है। एक्सपर्ट्स की मानें तो 5G प्लान्स कहीं से भी सस्ते नहीं होने वाले हैं। हालांकि, अब तक टेलीकॉम कंपनियों का कहना है कि 4G जैसे ही डेटा प्लान्स 5G के लिए भी मिलेंगे। डेटा प्लान्स की कीमत रोलआउट के बाद ही पता चलेगी।

पढ़ें :- 5G Spectrum Auction : 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू, अंबानी और अदानी आमने-सामने

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...