1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. जब चहल की गेंदों की होने लगी धुनाई, धोनी ने कहा – चल चार का कोटा पूरा कर और चिल मार

जब चहल की गेंदों की होने लगी धुनाई, धोनी ने कहा – चल चार का कोटा पूरा कर और चिल मार

भारत के लेग स्पिनर यजुवेंद्र चहल ने भारत के पूर्व महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम के लिए पदार्पण किया था। जब धोनी की कप्तानी में खेलते हुए एक टी20 मैच में चहल के गेंदों की धुलाई होने लगी तब धोनी ने उनसे कुछ ऐसी बात कही कि चहल ने उनकी बात को मान लिया।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

नई दिल्ली। भारत के लेग स्पिनर यजुवेंद्र चहल ने भारत के पूर्व महान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी(Mahendra Singh Dhoni) की कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम के लिए पदार्पण किया था। जब धोनी की कप्तानी में खेलते हुए एक टी20 मैच में चहल के गेंदों की धुलाई होने लगी तब धोनी ने उनसे कुछ ऐसी बात कही कि चहल ने उनकी बात को मान लिया। और अपना कोटा पूरा कर के फिल्डिंग करने लगे। जब गेंदबाज बुरी तरीके से पीट रहा हो तो कोई कप्तान तुरंत गुस्सा हो जाता हो सकता है कि गेंदबाज को डांट भी लग जाती।

पढ़ें :- दीप्ति शर्मा ने T20I क्रिकेट में रचा इतिहास, बनीं पहली भारतीय महिला क्रिकेटर

लेकिन उस परिस्थिती को धोनी ने कैसे हैंडल किया था उसकी तारीफ की है आर अश्विन के साथ बातचीत में यजुवेंद्र चहल(Yajuvendra Chahal) ने। 2018 में दक्षिण अफ्रीका दौरे को लेकर युजवेंद्र चहल ने एक किस्सा सुनाया, जो दर्शाता है कि क्यों धोनी दुनिया के बेस्ट कप्तानों में शामिल किए जाते हैं। चहल ने जब अपने करियर का सबसे महंगा टी20 बॉलिंग स्पेल फेंका था, तो धोनी ने उनसे आकर जो कहा था, वह सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे।

‘डीआरएस विद ऐश’ में चहल ने कहा, ‘माही भाई ने मुझसे कहा कि मैं राउंड द विकेट( Round The Vicket) गेंदबाजी करूं और मैंने ऐसा किया और मुझे छक्का पड़ गया। फिर माही भाई मेरे पास आए, तो मैंने उनसे कहा- ‘हां, माही भाई अब क्या करना है?’ उन्होंने मुझसे कहा कुछ नहीं मैं तो वैसे ही आ गया तेरे पास। मुझे पता है यह तुम्हारा दिन नहीं है। तुम पूरी कोशिश कर रहे हो, लेकिन हो नहीं पा रहा है।

ज्यादा सोचना नहीं, अपने चार का कोटा खत्म कर और चिल मार।’ उस मैच में चहल ने चार ओवर में बिना विकेट लिए 16 के इकॉनमी रेट से 64 रन लुटा डाले थे। हेंड्रिक क्लासेन और जेपी डुमिनी(JP Dumeny) ने मिलकर चहल की गेंदों पर खूब रन बटोरे थे। भारत ने 20 ओवर में चार विकेट पर 188 रन बनाए थे, जवाब में दक्षिण अफ्रीका ने 18.4 ओवर में ही चार विकेट पर 189 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया था। धोनी ने उस मैच में 28 गेंद पर नॉटआउट 52 रनों की पारी खेली थी, जबकि मनीष पांडे ने 79 रनों का योगदान दिया था।

पढ़ें :- IND vs SA टी-20 सीरीज ड्रॉ, टीम इंडिया ने बनाया बड़ा वर्ल्ड रिकॉर्ड
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...