जब देश होगा मजबूत तभी दुनिया में होगी सुख-शांति: भागवत

लखनऊ। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में स्वयं सेवकों को संबोधित किया। भागवत ने अपने सम्बोधन में देश के उत्थान की बात की। उन्होने कहा कि जब देश मजबूत होगा तभी दुनिया में सुख और शांति होगी।

भागवत ने संघ स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए कहा कि कानून बदलने अथवा व्यवस्था बदलने से समाज में कोई बड़ा बदलाव नहीं होगा। बड़े बदलाव के लिए अच्छे उदाहरण प्रस्तुत करने होंगे। यदि समाज संगठित होगा तो देश मजबूत होगा और जब देश मजबूत होगा तो दुनिया में सुख और शांति होगी।

भागवत ने कहा कि विश्व स्तर पर अलग पहचान के लिए निष्ठा से संघ के आदर्शों के अनुरुप कार्य करना होगा। संगठित समाज ही देश में विभिन्न उदाहरणों को प्रस्तुत कर अपनी छवि को और अधिक मजबूत बना सकता है।

गोहत्या निषेध कानून बनाये जाने की आवश्यकता के बारे में भागवत ने कहा कि यह जरुरी नहीं है लेकिन समाज में जागरुकता आने से इस पर स्वत: रोक लग सकेगी।