1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. जब लोगो ने प्रतापगढ़ में शुरु की कोरोना की पूजा, बनाया कोरोनामाई मंदिर और फिर…

जब लोगो ने प्रतापगढ़ में शुरु की कोरोना की पूजा, बनाया कोरोनामाई मंदिर और फिर…

कोरोना माहामारी ने पूरे विश्व को जो नुकसान पहुंचाया है उससे तो ये साफ तौर पर पता चलता है कि ये एक बड़ी त्रासदी है। कोरोना से जुड़ी खबरों के बीच इससे जुड़ी एक अजीब सूचना सामने आई है। प्रतापढ़ में लोगों ने मंदिर में मूर्ति की स्थापना कर 'कोरोना माई की पूजा भी शुरू कर दी है।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

प्रतापगढ़। कोरोना माहामारी ने पूरे विश्व को जो नुकसान पहुंचाया है उससे तो ये साफ तौर पर पता चलता है कि ये एक बड़ी त्रासदी है। कोरोना से जुड़ी खबरों के बीच इससे जुड़ी एक अजीब सूचना सामने आई है। प्रतापढ़ में लोगों ने मंदिर में मूर्ति की स्थापना कर ‘कोरोना माई की पूजा भी शुरू कर दी है। मामले के तूल पकडऩे जिला प्रशासन के निर्देश पर पुलिस ने शुक्रवार देर रात कोरोना माई के मंदिर को ढहा दिया है।

पढ़ें :- Kanwar Yatra Alert : कांवड़ यात्रा पर कट्टरपंथी कर सकते हैं हमला, यूपी, एमपी समेत इन राज्यों के लिए गृह मंत्रालय ने जारी किया अलर्ट

इसके बाद तोड़ी गई मूर्ति का अवशेष ट्रैक्टर ट्राली में रखकर बाहर कर दिया। मंदिर में मूर्ति स्थापना कराने वाले लोकेश श्रीवास्तव के बड़े भाई नागेश कुमार श्रीवास्तव को हिरासत में ले लिया गया है। अब परिवार वाले पुलिस पर दबंगई का आरोप लगा रहे हैं।

प्रतापगढ़ का यह मंदिर इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ तो भीड़ बढऩे लगी। यहां पर सात जून को गांव की ही दीपमाला श्रीवास्तव ने नीम के पेड़ तले मंदिर की स्थापना कराई थी। सांगीपुर थाना इलाके के जूही शुकुलपुर में चार दिन पहले कुछ लोगों ने कोरोना माता का मंदिर बनवाया था। जहां लोग अंधविश्वास को बढ़ावा देते हुए पूजा अर्चना करने लगे थे।

 

पढ़ें :- Janta Darbar : सीएम योगी का 4 अप्रैल से लगेगा जनता दरबार, अब फिर होगी सीधी फरियाद
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...