जब महाराष्ट्र की रैली में पीएम बोले- डूब मरो…डूब मरो…डूब मरो…

modi
जब महाराष्ट्र की रैली में पीएम बोले- डूब मरो...डूब मरो...डूब मरो...

मुम्बई। महाराष्र्ट विधानसभा चुनाव को लेकर पीएम मोदी रोजाना रैलियां कर रहे हैं और विपक्षियों पर जमकर बरस रहे हें। आज अकोला में एक रैली को सम्बोधित करते हुए पीएम बोले कि परिवार के कल्याण में खोए हुए व राजनीति के स्वार्थ में डूबे हुए लोग की हिम्मत हो तो बोलकर देखें कि महाराष्ट्र का कश्मीर से क्या लेना देना है? पीएम ने कहा कि जो लोग कह रहे हैं कि महाराष्ट्र चुनाव में आर्टिकल 370 का क्या वास्ता उन्हें डूब मरना चाहिए।

When Pm Said In Maharashtra Rally Drowning Drowning Drowning :

 

पीएम ने कहा कि वो हैरान हैं कि छत्रपति शिवाजी की धरती पर आजकल राजनीतिक स्वार्थ के कारण ऐसी बयानबाजी की जा रही हैं। उन्होने ऐसे बयानों की आलोचना करते हुए कहा कि महाराष्ट्र के न जाने कितने जवानो ने कश्मीर में अपनी शहादत दे दी थी। उन लोगों को शर्म आनी चाहिए जो कश्मीर से महाराष्ट्र का वास्ता पूछने रहते हैं। ऐसे ही नेताओं को पीएम ने रैली में कहा डूब मरो…डूब मरो…डूब मरो…।

पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने राष्ट्र निर्माण का मूल राष्ट्रवाद को बनाया है ये सावरकर और आंबेडकर जी के संस्कारों की वजह से ही है। उन्होने कांग्रेस की आलोचना करते हुए कहा कि एक समय था जब मुंबई धमको से दहल जाया करती थी लेकिन आज यहां शांति है, उन्होने महाराष्ट्र की जनता से वादा करते हुए कहा कि मैं देश पर आंच भी नहीं आने दूंगा।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र में आने वाले 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होने हैं। भाजपा और शिवसेना मिलकर चुनाव लड़ रहे हैं जिसके विपक्ष में एनसीपी और कांग्रेस खड़ी हैं। एनसीपी और कांग्रेस लगातार भाजपा पर आरोप लगा रही है कि बीजेपी और मोदी सरकार 370 का जिक्र कर असल मुद्दों से जनता का ध्यान भटका रही है। पीएम मोदी ने इस दौरान कांग्रेस पर वीर सावरकर और बाबा साहब अंबेडकर के अपमान का भी आरोप लगाया।

मुम्बई। महाराष्र्ट विधानसभा चुनाव को लेकर पीएम मोदी रोजाना रैलियां कर रहे हैं और विपक्षियों पर जमकर बरस रहे हें। आज अकोला में एक रैली को सम्बोधित करते हुए पीएम बोले कि परिवार के कल्याण में खोए हुए व राजनीति के स्वार्थ में डूबे हुए लोग की हिम्मत हो तो बोलकर देखें कि महाराष्ट्र का कश्मीर से क्या लेना देना है? पीएम ने कहा कि जो लोग कह रहे हैं कि महाराष्ट्र चुनाव में आर्टिकल 370 का क्या वास्ता उन्हें डूब मरना चाहिए।   पीएम ने कहा कि वो हैरान हैं कि छत्रपति शिवाजी की धरती पर आजकल राजनीतिक स्वार्थ के कारण ऐसी बयानबाजी की जा रही हैं। उन्होने ऐसे बयानों की आलोचना करते हुए कहा कि महाराष्ट्र के न जाने कितने जवानो ने कश्मीर में अपनी शहादत दे दी थी। उन लोगों को शर्म आनी चाहिए जो कश्मीर से महाराष्ट्र का वास्ता पूछने रहते हैं। ऐसे ही नेताओं को पीएम ने रैली में कहा डूब मरो...डूब मरो...डूब मरो...। पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने राष्ट्र निर्माण का मूल राष्ट्रवाद को बनाया है ये सावरकर और आंबेडकर जी के संस्कारों की वजह से ही है। उन्होने कांग्रेस की आलोचना करते हुए कहा कि एक समय था जब मुंबई धमको से दहल जाया करती थी लेकिन आज यहां शांति है, उन्होने महाराष्ट्र की जनता से वादा करते हुए कहा कि मैं देश पर आंच भी नहीं आने दूंगा। आपको बता दें कि महाराष्ट्र में आने वाले 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होने हैं। भाजपा और शिवसेना मिलकर चुनाव लड़ रहे हैं जिसके विपक्ष में एनसीपी और कांग्रेस खड़ी हैं। एनसीपी और कांग्रेस लगातार भाजपा पर आरोप लगा रही है कि बीजेपी और मोदी सरकार 370 का जिक्र कर असल मुद्दों से जनता का ध्यान भटका रही है। पीएम मोदी ने इस दौरान कांग्रेस पर वीर सावरकर और बाबा साहब अंबेडकर के अपमान का भी आरोप लगाया।