जब कोर्ट में 3 वर्षीय दुष्कर्म पीड़ित बच्ची ने कहा हां, अंकल यही है वो ‘गंदा आदमी’

3-year-old rape victim
जब कोर्ट में 3 वर्षीय दुष्कर्म पीड़ित बच्ची ने कहा हां, अंकल यही है वो 'गंदा आदमी'

नई दिल्ली। तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद की 27 वर्षीय लेडी डॉक्टर के साथ हुई दरिंदगी को लेकर पूरे देश के लोग आक्रोशित हैं। इस मामले में चार आरोपी पकड़े गये हैं, जनता मांग कर रही है कि इन चारो के खिलाफ तुरन्त कार्रवाई करके सजा दी जाये। वहीं बागपत कोर्ट ने 3 साल की मासूम बच्ची के साथ हुई घटना के बाद चन्द दिनो में आरोपी को सजा सुनाकर एक मिशाल कायम की है। इस दौरान जब बच्ची के सामने आरोपी को पेश किया गया तो बच्ची ने कहा हां, अंकल यही है वो ‘गंदा आदमी’

When The 3 Year Old Rape Victim In The Court Said Yes This Is Uncles Dirty Man :

आपको बता दें कि बागपत के छपरौली थाना क्षेत्र के एक गांव में बीते 13 सितंबर को तीन साल की बच्ची को रिश्ते में भाई लगने वाला युवक नमकीन दिलाने के बहाने घर से ले गया था। लेकिन युवक किसी दुकान नही गया, वो बहला फुसलाकर बच्ची को एक जंगल में ले गया और दसके साथ दुष्कर्म किया। मामला पुलिस के सामने आया तो पुलिस ने आरोपी को दिल्ली से 29 अक्तूबर को गिरफ्तार कर लिया था। इस मामले में पुलिस द्वारा 15 नवंबर को अदालत में चार्जशीट दाखिल की गयी। एडीजे प्रथम विशेष न्यायाधीश पॉक्सो अधिनियम शैलेंद्र पांडेय की कोर्ट में 25 नवंबर को आरोप तय किए गये और 29 नवंबबर को कार्यवाही पूरी होने के बाद आज आरोपी को उम्रकैद की सजा सुना दी गयी।

शनिवार को जब आखिरी बार बच्ची के कोर्ट में बयान लिये गये तो वो रो रही थी और उसके चेहरे पर आज भी वही खौफ था। जब उसने रोते हुए कहा हां अंकल, यही है वो गंदा आदमी। यह सुनते ही वहां बैठे हर शख्स की आंखे नम हो गयी। इस घटना के बाद से ही पूरे गांव के लोग आक्रोशित हैं। गांव वालो का कहना है कि मासूम बच्ची खेल रही थी तभी चचेरा भाई उसे बहला फुसलाकर ले गया और उसके साथ दरिंदगी की। वहीं पीड़िता की मां ने कहा कि फांसी पर चढ़ा दो तभी सुकून मिलेगा।

नई दिल्ली। तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद की 27 वर्षीय लेडी डॉक्टर के साथ हुई दरिंदगी को लेकर पूरे देश के लोग आक्रोशित हैं। इस मामले में चार आरोपी पकड़े गये हैं, जनता मांग कर रही है कि इन चारो के खिलाफ तुरन्त कार्रवाई करके सजा दी जाये। वहीं बागपत कोर्ट ने 3 साल की मासूम बच्ची के साथ हुई घटना के बाद चन्द दिनो में आरोपी को सजा सुनाकर एक मिशाल कायम की है। इस दौरान जब बच्ची के सामने आरोपी को पेश किया गया तो बच्ची ने कहा हां, अंकल यही है वो 'गंदा आदमी' आपको बता दें कि बागपत के छपरौली थाना क्षेत्र के एक गांव में बीते 13 सितंबर को तीन साल की बच्ची को रिश्ते में भाई लगने वाला युवक नमकीन दिलाने के बहाने घर से ले गया था। लेकिन युवक किसी दुकान नही गया, वो बहला फुसलाकर बच्ची को एक जंगल में ले गया और दसके साथ दुष्कर्म किया। मामला पुलिस के सामने आया तो पुलिस ने आरोपी को दिल्ली से 29 अक्तूबर को गिरफ्तार कर लिया था। इस मामले में पुलिस द्वारा 15 नवंबर को अदालत में चार्जशीट दाखिल की गयी। एडीजे प्रथम विशेष न्यायाधीश पॉक्सो अधिनियम शैलेंद्र पांडेय की कोर्ट में 25 नवंबर को आरोप तय किए गये और 29 नवंबबर को कार्यवाही पूरी होने के बाद आज आरोपी को उम्रकैद की सजा सुना दी गयी। शनिवार को जब आखिरी बार बच्ची के कोर्ट में बयान लिये गये तो वो रो रही थी और उसके चेहरे पर आज भी वही खौफ था। जब उसने रोते हुए कहा हां अंकल, यही है वो गंदा आदमी। यह सुनते ही वहां बैठे हर शख्स की आंखे नम हो गयी। इस घटना के बाद से ही पूरे गांव के लोग आक्रोशित हैं। गांव वालो का कहना है कि मासूम बच्ची खेल रही थी तभी चचेरा भाई उसे बहला फुसलाकर ले गया और उसके साथ दरिंदगी की। वहीं पीड़िता की मां ने कहा कि फांसी पर चढ़ा दो तभी सुकून मिलेगा।