1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. जब पिता ने की बेटी से छेड़छाड़ की शिकायत, शोहदों ने गोली से भून उतारा मौत के घाट… सीएम ने लिया संज्ञान

जब पिता ने की बेटी से छेड़छाड़ की शिकायत, शोहदों ने गोली से भून उतारा मौत के घाट… सीएम ने लिया संज्ञान

By आराधना शर्मा 
Updated Date

When The Father Complained Of Molesting His Daughter The Victims Shot To Death

लखनऊ: उत्तर प्रदेश का जनपद हाथरस एक बार फिर चर्चा में आ गया है। बेटी से छेड़छाड़ का मुकदमा वापस न लेने पर सपानेता ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसके पिता की हत्या कर दी। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मामले को संज्ञान में लेकर दोषियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं।

पढ़ें :- खरबपति मित्रों का चश्मा लगाकर मर चुका है मोदी सरकार की आंखों का पानी : प्रियंका गांधी वाड्रा

सासनी गेट के रहने वाले अम्बरीश कुमार शर्मा खेती करके परिवार का जीवन यापन करते हैं। उनकी बेटी ने देर शाम को एक मुकदमा दर्ज कराया। पीड़ित की ओर से दी गई तहरीर में बताया गया कि सोमवार दोपहर के 3:30 बजे वह अपनी मां और पिता के साथ खेत में आलू की खोदाई कर रही थी, जबकि कुछ मजदूर आलू की बिनाई में जुटे थे। उसी दौरान उसके गांव के रहने वाले सपा नेता गौरव शर्मा, रोहिताश शर्मा, निखिल शर्मा, ललित शर्मा अपने दो साथियों के साथ एक सफेद गाड़ी में हथियारों से लैस होकर खेत पहुंचे।

सपा नेता गौरव ने कहा कि कोर्ट में विचाराधीन छेड़छाड़ का मुकदमा वापस ले लो और अपनी लड़की से फैसला करा दो। इस बीच किसान कुछ समझ पाता की गौरव और उसके साथियों ने तमंचे से उस पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद सभी मौके से भाग निकले। परिजनों ने आनन-फानन में घायल किसान को इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर जांच में जुट गई।

पुलिस ने ताबड़तोड़ छापेमारी करते हुए आरोपित ललित शर्मा दो अपराधी को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि फरार सपा नेता समेत अन्य बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

परिजनों के मुताबिक 16 जुलाई 2018 को मुख्य आरोपित सपा नेता गौरव के विरुद्ध घर में घुसकर बेटी से छेड़खानी करने को लेकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी । इस मामले में गौरव 15 दिन तक जेल में रहा था। इसका मुकदमा भी कोर्ट में विचाराधीन है। जेल से जमानत पर छूटने के बाद लगातार गौरव पीड़ित परिवार पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बना रहा था। जब किसान ने मुकदमा वापस लेने से मना कर दिया तो उसने रंजिश के चलते अम्बरीश की हत्या कर दी।

मुख्यमंत्री ने लिया संज्ञान

इस मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। उन्होंने वारदात में शामिल सभी आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) लगाने के भी निर्देश दिए हैं।

 

पढ़ें :- Tokyo Olympic: जानें देश के क्रिकेटरों ने मीराबाई चानू को क्या कह कर दी बधाई, एक के शब्द तो दिल जीत लेंगे

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...