1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. जब भेष बदलकर निकलीं महिला IPS, पुलिसकर्मियों को दी लूट की सूचना…जानिए फिर क्या हुआ

जब भेष बदलकर निकलीं महिला IPS, पुलिसकर्मियों को दी लूट की सूचना…जानिए फिर क्या हुआ

कानून व्यवस्था की हकीकत जानने के लिए औरैया के एसपी चारू निगम (Auraiya SP Charu Nigam) खुद पीड़ित बन गईं। पीड़ित बनकर उन्होंने पुलिस के रिस्पॉन्स टाइम को चेक किया। इसको लेकर उन्होंने झूठी लूट की सूचना पुलिस को दी। हालांकि, सूचना के बाद पुलिस की टीम वहां पर पहुंच गई।

By शिव मौर्या 
Updated Date

औरैया। कानून व्यवस्था की हकीकत जानने के लिए औरैया के एसपी चारू निगम (Auraiya SP Charu Nigam) खुद पीड़ित बन गईं। पीड़ित बनकर उन्होंने पुलिस के रिस्पॉन्स टाइम को चेक किया। इसको लेकर उन्होंने झूठी लूट की सूचना पुलिस को दी। हालांकि, सूचना के बाद पुलिस की टीम वहां पर पहुंच गई। दरअसल, एसपी चारू निगम (SP Charu Nigam) पुलिस के रिस्पॉन्स टाइम और कानून व्यवस्था को जांचने के लिए सड़क पर उतरीं।

पढ़ें :- AKTU में एमबीए और एमसीए परीक्षा 10 फरवरी से, 23 जिलों में 58 परीक्षा केंद्रों पर करीब 15 हजार परीक्षार्थी होंगे शामिल

बाइक पर सवार होकर वो सुनसान जगह पहुंची और पुलिस को फोनकर झूठी लूट की सूचना दी। उन्होंने कहा कि, ‘हेलो मैं सरिता चौहान बोल रही हूं, दिबियापुर रोड पर प्लास्टिक सिटी के पास सड़क पर बाइक सवार दो लुटेरों ने तमंचा दिखाकर लूटपाट की है, जल्दी पहुंचे, लुटेरे औरैया की तरफ भागे हैं…’ इस सूचना के बाद पुलिस कंट्रोल रूम की गाड़ी मौके पर पहुंच गई और जांच शुरू कर दी।

पढ़ें :- UP Global Investors Summit 2023 : यूपी के विकास पर तीन दिन में 34 सत्रों में होगा मंथन, देखें शेड्यूल

मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मी लूट की घटना को सही मानकर जांच कर रहे थे। करीब आधे घंटे तक पुलिस जांच करती रही। हालांकि, बाद में उन्होंने अपने चेहरे से स्काफ और मास्क हटाया तो सामने खड़े पुलिसकर्मी हैरान हो गए। वो सरिता नहीं बल्कि जिले की पुलिस अधीक्षक चारू निगम थीं। इसको लेकर एसपी का कहना है कि वो मैं जानना चाहती थी कि पुलिस कितनी जल्दी रिस्पॉन्स करती है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...