T20 वर्ल्ड कप: ऑस्ट्रेलिया को धूल चटाने के बाद कौर ने दिया ये बड़ा बयान

T20 वर्ल्ड कप: ऑस्ट्रेलिया को धूल चटाने के बाद, कौर ने दिया ये बड़ा बयान
T20 वर्ल्ड कप: ऑस्ट्रेलिया को धूल चटाने के बाद, कौर ने दिया ये बड़ा बयान

नई दिल्ली। भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर ने कहा कि उनकी टीम को स्तरीय खिलाड़ियों की मौजूदगी के कारण अच्छा प्रदर्शन करना ही होगा। उन्होंने साथ ही कहा कि आईसीसी विश्व महिला टी20 के लीग राउंड के अंतिम मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 48 रन की जीत से टीम के स्तर का पता चलता है।

When You Have Good Team You Have To Perform Well Says Harmanpreet Kaur :

हरमनप्रीत ने मैच के बाद कहा, सेमीफाइनल में पहुंचने से हम खुश हैं। लेकिन अभी कुछ क्षेत्रों में सुधार करने की जरूरत है। क्रिकेट के इस छोटे प्रारूप में जब कभी आप के मुख्य गेंदबाज रणनीतियों के हिसाब से गेंदबाजी नहीं कर पाते हैं तो आपको अन्य गेंदबाजों से भी गेंदबाजी कराना पड़ती है। इसलिए मैंने और जेम्मी ने गेंदबाजी की।

भारत ने मैन ऑफ द मैच मिताली राज (51) की अर्धशतकीय पारी के दम पर आयरलैंड के सामने 146 रनों का लक्ष्य रखा था। आयरलैंड की टीम प्रोवीडेंस स्टेडियम में खेले गए मैच में पूरे 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 93 रन ही बना सकी।

भारतीय महिला टीम 2010 के बाद पहली बार टी-20 विश्वकप के सेमीफाइनल में पहुंची है। कप्तान ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले सेमीफाइनल मुकाबले को लेकर कहा, टी-20 में मैच जीतने के लिए आपको आक्रामक होने की जरूरत होती है।

लेकिन आज हम अपनी रणनीतियों के अनुसार बल्लेबाजी नहीं कर पाए। गेंदबाजों का भी यही हाल रहा। इसलिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अगर आप जीत दर्ज करना चाहते हैं तो आपको आक्रामक खेल दिखाना होगा।

नई दिल्ली। भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर ने कहा कि उनकी टीम को स्तरीय खिलाड़ियों की मौजूदगी के कारण अच्छा प्रदर्शन करना ही होगा। उन्होंने साथ ही कहा कि आईसीसी विश्व महिला टी20 के लीग राउंड के अंतिम मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 48 रन की जीत से टीम के स्तर का पता चलता है। हरमनप्रीत ने मैच के बाद कहा, सेमीफाइनल में पहुंचने से हम खुश हैं। लेकिन अभी कुछ क्षेत्रों में सुधार करने की जरूरत है। क्रिकेट के इस छोटे प्रारूप में जब कभी आप के मुख्य गेंदबाज रणनीतियों के हिसाब से गेंदबाजी नहीं कर पाते हैं तो आपको अन्य गेंदबाजों से भी गेंदबाजी कराना पड़ती है। इसलिए मैंने और जेम्मी ने गेंदबाजी की। भारत ने मैन ऑफ द मैच मिताली राज (51) की अर्धशतकीय पारी के दम पर आयरलैंड के सामने 146 रनों का लक्ष्य रखा था। आयरलैंड की टीम प्रोवीडेंस स्टेडियम में खेले गए मैच में पूरे 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 93 रन ही बना सकी। भारतीय महिला टीम 2010 के बाद पहली बार टी-20 विश्वकप के सेमीफाइनल में पहुंची है। कप्तान ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले सेमीफाइनल मुकाबले को लेकर कहा, टी-20 में मैच जीतने के लिए आपको आक्रामक होने की जरूरत होती है। लेकिन आज हम अपनी रणनीतियों के अनुसार बल्लेबाजी नहीं कर पाए। गेंदबाजों का भी यही हाल रहा। इसलिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अगर आप जीत दर्ज करना चाहते हैं तो आपको आक्रामक खेल दिखाना होगा।