पति के साथ ससुराल जाते वक्त दिखा प्रेमी का घर, बाइक से कूदकर फरार हो गई महिला

aligarh case
पति के साथ ससुराल जाते वक्त दिखा प्रेमी का घर, बाइक से कूदकर फरार हो गई महिला

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के अलीगढ से पति पत्नी की एक दिलचस्प कहानी सामने आई है। यहां एक शख्स अपनी ससुराल पत्नी को लेने आया था। वो पत्नी को बाइक पर बैठाकर घर जा रहा था, तभी रास्ते में अचानक उसे प्रेमी का घर दिख गया। फिर क्या था, महिला ने बाइक से छलांग लगाई और कूदकर फरार हो गई। यहीं नहीं जाते वक्त उसने पति से कहा कि वो उसे भूल जाए, अब वो अपने प्रेमी के साथ ही रहेगी। इसके बाद देर रात तक थाने पर हंगामा चलता रहा।

While Traveling With The Husbandgirl Escaped From The Bike To Meet Lover :

बताया जा रहा है कि मामला संजीव नगर, फाउंड्री नगर का है। यहां रहने वाले वीरेन्द्र प्रजापति का मोहल्ले की युवती से प्रेमप्रसंग चल रहा था। हालाकि उन दोनों की शादी नहीं हो सकी। युवती और युवक दोनों की शादी अलग—अलग हो गई। फिर भी दोनों का मिलना—जुलना जारी रहा। वीरेंद्र की पत्नी ने दोनों की बातचीत सुन ली। बताया जा रहा है कि युवती अभी कुछ दिन पहले अपने मायके आई थी। बुधवार को उसका पति उसे लेने आया और बाइक पर बैठाकर ले जा रहा था। तभी अचानक युवती की नजर वीरेन्द्र की मोबाइल शॉप पर पड़ी तो वो बाइक से कूद गई और दुकान पहुंची, वहां वीरेन्द्र नहीं मिला तो सीधे उसके घर पहुंच गई।

युवती के पति ने इसकी जानकारी उसके माता—पिता को दी। मौके पर पहुंचे परिजनों ने बेटी को समझाने का प्रयास किया। वह कुछ सुनने को तैयार नहीं थी। साफ बोल रही थी कि अब यहीं रहेगी। वीरेंद्र भी उसके हाथ जोड़ रहा था। उसे समझाने का प्रयास कर रहा था। हंगामा बढ़ा तो भीड़ जमा हो गई। मामला चौकी तक पहुंच गया। पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया। जब बात नहीं बनी तो दोनों पक्ष थाने भेज दिए। थाने पर भी घंटों पंचायत चली।

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के अलीगढ से पति पत्नी की एक दिलचस्प कहानी सामने आई है। यहां एक शख्स अपनी ससुराल पत्नी को लेने आया था। वो पत्नी को बाइक पर बैठाकर घर जा रहा था, तभी रास्ते में अचानक उसे प्रेमी का घर दिख गया। फिर क्या था, महिला ने बाइक से छलांग लगाई और कूदकर फरार हो गई। यहीं नहीं जाते वक्त उसने पति से कहा कि वो उसे भूल जाए, अब वो अपने प्रेमी के साथ ही रहेगी। इसके बाद देर रात तक थाने पर हंगामा चलता रहा। बताया जा रहा है कि मामला संजीव नगर, फाउंड्री नगर का है। यहां रहने वाले वीरेन्द्र प्रजापति का मोहल्ले की युवती से प्रेमप्रसंग चल रहा था। हालाकि उन दोनों की शादी नहीं हो सकी। युवती और युवक दोनों की शादी अलग—अलग हो गई। फिर भी दोनों का मिलना—जुलना जारी रहा। वीरेंद्र की पत्नी ने दोनों की बातचीत सुन ली। बताया जा रहा है कि युवती अभी कुछ दिन पहले अपने मायके आई थी। बुधवार को उसका पति उसे लेने आया और बाइक पर बैठाकर ले जा रहा था। तभी अचानक युवती की नजर वीरेन्द्र की मोबाइल शॉप पर पड़ी तो वो बाइक से कूद गई और दुकान पहुंची, वहां वीरेन्द्र नहीं मिला तो सीधे उसके घर पहुंच गई। युवती के पति ने इसकी जानकारी उसके माता—पिता को दी। मौके पर पहुंचे परिजनों ने बेटी को समझाने का प्रयास किया। वह कुछ सुनने को तैयार नहीं थी। साफ बोल रही थी कि अब यहीं रहेगी। वीरेंद्र भी उसके हाथ जोड़ रहा था। उसे समझाने का प्रयास कर रहा था। हंगामा बढ़ा तो भीड़ जमा हो गई। मामला चौकी तक पहुंच गया। पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया। जब बात नहीं बनी तो दोनों पक्ष थाने भेज दिए। थाने पर भी घंटों पंचायत चली।