नई सरकार और मंत्रीमण्डल को लेकर मोदी-शाह के बीच हुई चर्चा

b

नई दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। समझा जाता है कि दोनों नेताओं ने नई सरकार के गठन की बारीकियों पर चर्चा की। नई सरकार में मंत्रिपरिषद को गुरूवार को शपथ दिलाई जाएगी।

Who Will Cabinet Minister Portfolio In Modi Government 2 Pm Modi Amit Shah Marathon Meeting :

दरअसल नरेंद्र मोदी 30 मई को दूसरी बार देश के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेने वाले हैं। इसको लेकर दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में तैयारियां चल रही हैं। पीएम मोदी के अलावा मंत्रिमंडल में कौन कौन शपथ लेंगे इसे लेकर आज भी दिल्ली में बैठकों का दौर जारी रहेगा।

भाजपा में एक तबके का मानना है कि अभूतपूर्व बहुमत से सत्ता में पार्टी की वापसी कराने में अहम भूमिका निभाने के बाद शाह सरकार में मंत्री पद संभाल सकते हैं हालांकिए शाह ने इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है। मोदी और शाह की मुलाकात में किन मुद्दों पर बात हुई इस बारे में आधिकारिक तौर पर तो कुछ नहीं कहा गया लेकिन माना जाता है कि दोनों नेताओं ने दूसरी बार मोदी सरकार के गठन की बारीकियों पर चर्चा की होगी।

इस बात पर भी चर्चा हुई होगी कि किन नेताओं को मंत्री बनाना है और किन्हें किस मंत्रालय का प्रभार सौंपना है। सूत्रों ने बताया कि नई मंत्रिपरिषद में पश्चिम बंगाल एवं तेलंगाना जैसे राज्यों में भाजपा के अच्छे प्रदर्शन की झलक मिल सकती है और इन राज्यों से चुने गए सांसदों को मंत्री पद दिया जा सकता है। कई नेताओं का मानना है कि पिछली सरकार के सबसे प्रमुख सदस्यों को मंत्री पद पर बरकरार रखा जा सकता है।

नई दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। समझा जाता है कि दोनों नेताओं ने नई सरकार के गठन की बारीकियों पर चर्चा की। नई सरकार में मंत्रिपरिषद को गुरूवार को शपथ दिलाई जाएगी। दरअसल नरेंद्र मोदी 30 मई को दूसरी बार देश के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेने वाले हैं। इसको लेकर दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में तैयारियां चल रही हैं। पीएम मोदी के अलावा मंत्रिमंडल में कौन कौन शपथ लेंगे इसे लेकर आज भी दिल्ली में बैठकों का दौर जारी रहेगा। भाजपा में एक तबके का मानना है कि अभूतपूर्व बहुमत से सत्ता में पार्टी की वापसी कराने में अहम भूमिका निभाने के बाद शाह सरकार में मंत्री पद संभाल सकते हैं हालांकिए शाह ने इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है। मोदी और शाह की मुलाकात में किन मुद्दों पर बात हुई इस बारे में आधिकारिक तौर पर तो कुछ नहीं कहा गया लेकिन माना जाता है कि दोनों नेताओं ने दूसरी बार मोदी सरकार के गठन की बारीकियों पर चर्चा की होगी। इस बात पर भी चर्चा हुई होगी कि किन नेताओं को मंत्री बनाना है और किन्हें किस मंत्रालय का प्रभार सौंपना है। सूत्रों ने बताया कि नई मंत्रिपरिषद में पश्चिम बंगाल एवं तेलंगाना जैसे राज्यों में भाजपा के अच्छे प्रदर्शन की झलक मिल सकती है और इन राज्यों से चुने गए सांसदों को मंत्री पद दिया जा सकता है। कई नेताओं का मानना है कि पिछली सरकार के सबसे प्रमुख सदस्यों को मंत्री पद पर बरकरार रखा जा सकता है।