सावन का तीसरा सोमवार होता है खास, जानें वजह

सावन के महीने का भगवान शिव से एक गहरा संबंध है। इस महीने में भगवान शिव को प्रसन्न करने व अपनी मनोकामना पूरी करने के लिए सोमवार के दिन का अपना अलग महत्व है। शिव जी की पूजा के लिए खास माने जाने वाले सोमवार के दिन शिवभक्त शिवालयों में जाकर खास पूजा-अर्चना ,मंत्रोच्चारण आदि करते हैं। सावन का तीसरा सोमवार बहुत ही खास होता है। तीन संख्या का है शंकर भगवान से एक बहुत गहरा नाता।

कठिन से कठिन कार्य हो जाता है संभव—

विद्वानों द्वारा सावन का तीसरा सोमवार शिव साधना के लिए उत्तम माना गया है। इस दिन भक्तों को शिव मंत्रों का जाप करके सिद्धी प्राप्त हो सकती है। माना जाता है साध्य योग में सावन के तीसरे सोमवार के दिन हर नामुमकिन कार्य मुमकिन हो सकता है। इस दिन मंत्रों में एक अलग शक्ती होती है।

सावन के सोमवार में रखें इन बातों का ध्यान—-

  • सूर्योदय से पहले उठकर व्रत शुरू करें।
  • सुबह नहाने के पश्चात शिवलिंग पर भगवान की प्रिय वस्तुएँ चढ़ाएँ।
  • सोमवार की व्रत कथा अवश्य कहें।
  • शिव जी की पूजा के साथ माँ पार्वती की पूजा करना न भूलें।
  • शाम को शिवलिंग के दर्शन के बाद भोजन करें।