पत्नी ने अपने प्रेमी से कराई पति की हत्या

गोरखपुर| यूपी के गोरखपुर में एक पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की ईट से कुचलकर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी शव को रात में ही पल्सर बाइक पर लादकर ले जाने लगे। रास्ते में आरोपियों का पुलिस से सामना हो गया और वो शव को वहीं सड़क पर फेककर भागने लगे, तभी पुलिस ने उनका पीछा कर उन्हे हिरासत में ले लिया। फिलहाल शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया हैं। मामले में मृतक की पत्नी समेत एक अन्य युवक को भी गिरफ्तार किया गया है।





परिजनो को नहीं हुई आहट

Wife Murdered Her Husband With Help Of Boyfriend :

पकडे गए आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस कैंट इलाके के विशुनपुरवा में विवेक के घर पहुंची। पूछताछ में पता चला कि पत्नी सुषमा ने ही अपने प्रेमी के साथ मिलकर विवेक प्रताप की हत्या की साजिश रची थी। इसके बाद पुलिस ने आरोपी पत्नी को हिरासत में ले लिया हैं। हैरान कर देने वाली बात ये है कि घर में मौजूद किसी भी शख्स को घटना की खबर नहीं लगी, हालांकि मृतक का कमरा फर्स्ट फ्लोर पर है। उसके कमरे के बगल में उसके चाचा कृष्ण प्रताप सिंह और चाची दुर्गा सिंह का भी कमरा हैं। परिजनो के मुताबिक, दोनों कमरे मे ही थे पर उन्हे घटना की जानकारी नहीं हुई। बताया जा रहा है कि जिस समय घटना को अंजाम दिया गया उस समय मृतक के पिता देवेंद्र प्रताप सिंह पत्नी लक्ष्मी सिंह के साथ सो रहे थे, लेकिन उनको भी इसकी भनक नहीं लगी।



प्रेम-प्रसंग का मामला

मृतक का एक बेटा भी हैं। पुलिस वालों का कहना हैं कि पूछताछ में पता चला की हत्या प्रेम- प्रसंग के चलते की गई हैं। फिलहाल मामले की तह तक जाने की कोशिश की जा रही हैं। वहां मौजूद लोगों के मुताबिक, मृतक की पत्नी सुषमा सिंह का अपने मायके के ही डब्ल्यू सिंह नाम के युवक से शादी से पहले से ही प्रेम संबंध था। इसकी जानकारी मृतक को हो गई थी और उसने पत्नी पर कड़ा पहरा बिठा दिया था। शनिवार रात योजना के मुताबिक, डब्ल्यू सिंह अपने ही गांव के सोनू, राधेश्याम सिंह और अनिल मौर्या बदमाशों के साथ विशुनपुरवा गांव पहुंचा। इसके बाद सुषमा की हेल्प से उसके कमरे तक पहुंचा और पूरी वारदात को अंजाम दिया।

गोरखपुर| यूपी के गोरखपुर में एक पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की ईट से कुचलकर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी शव को रात में ही पल्सर बाइक पर लादकर ले जाने लगे। रास्ते में आरोपियों का पुलिस से सामना हो गया और वो शव को वहीं सड़क पर फेककर भागने लगे, तभी पुलिस ने उनका पीछा कर उन्हे हिरासत में ले लिया। फिलहाल शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया हैं। मामले में मृतक की पत्नी समेत एक अन्य युवक को भी गिरफ्तार किया गया है। परिजनो को नहीं हुई आहटपकडे गए आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस कैंट इलाके के विशुनपुरवा में विवेक के घर पहुंची। पूछताछ में पता चला कि पत्नी सुषमा ने ही अपने प्रेमी के साथ मिलकर विवेक प्रताप की हत्या की साजिश रची थी। इसके बाद पुलिस ने आरोपी पत्नी को हिरासत में ले लिया हैं। हैरान कर देने वाली बात ये है कि घर में मौजूद किसी भी शख्स को घटना की खबर नहीं लगी, हालांकि मृतक का कमरा फर्स्ट फ्लोर पर है। उसके कमरे के बगल में उसके चाचा कृष्ण प्रताप सिंह और चाची दुर्गा सिंह का भी कमरा हैं। परिजनो के मुताबिक, दोनों कमरे मे ही थे पर उन्हे घटना की जानकारी नहीं हुई। बताया जा रहा है कि जिस समय घटना को अंजाम दिया गया उस समय मृतक के पिता देवेंद्र प्रताप सिंह पत्नी लक्ष्मी सिंह के साथ सो रहे थे, लेकिन उनको भी इसकी भनक नहीं लगी। प्रेम-प्रसंग का मामलामृतक का एक बेटा भी हैं। पुलिस वालों का कहना हैं कि पूछताछ में पता चला की हत्या प्रेम- प्रसंग के चलते की गई हैं। फिलहाल मामले की तह तक जाने की कोशिश की जा रही हैं। वहां मौजूद लोगों के मुताबिक, मृतक की पत्नी सुषमा सिंह का अपने मायके के ही डब्ल्यू सिंह नाम के युवक से शादी से पहले से ही प्रेम संबंध था। इसकी जानकारी मृतक को हो गई थी और उसने पत्नी पर कड़ा पहरा बिठा दिया था। शनिवार रात योजना के मुताबिक, डब्ल्यू सिंह अपने ही गांव के सोनू, राधेश्याम सिंह और अनिल मौर्या बदमाशों के साथ विशुनपुरवा गांव पहुंचा। इसके बाद सुषमा की हेल्प से उसके कमरे तक पहुंचा और पूरी वारदात को अंजाम दिया।