ISIS के चंगुल में भारतीय पादरी, सुषमा बोली- रिहाई में नहीं छोड़ेंगे कोई कसर

नई दिल्ली| आतंकी संगठन आईएसआईएस के चंगुल में फंसे भारतीय पादरी टॉम उझुन्नलिल की सकुशल रिहाई के लिए अब विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आगे आईं हैं| सुषमा ने कहा है कि वह फादर टॉम को आजाद कराने के लिए कोई कसर नही छोड़ेंगी|




सुषमा ने कहा, “फादर टॉम के वीडियो को देखा है, उनकी रिहाई के लिए हम अपने प्रयासों में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे|” उन्होंने कहा, “हमने फादर एलेक्स प्रेम कुमार और जुडिथ डिसूजा को अफगानिस्तान से मुक्त करा लिया| हमने फादर टॉम की रिहाई के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी है और हम इसके लिए हर संभव प्रयास करेंगे|”

बता दें कि मार्च में यमन में इस्लामिक स्टेट द्वारा अगवा किए गए केरल के फादर टॉम उझुन्नलिल ने पोप फ्रांसिस और भारत सरकार से अपनी रिहाई के लिए एक एक वीडियो जारी किया है, जिसमे उन्होंने अपनी जान बचाने की अपील की है| उन्होंने कहा कि वे भारतीय हैं इसलिए ईसाई संसार उनको नजरअंदाज कर रहा है| यदि वह यूरोपीय होते तो उनके मामले को गंभीरता से लिया जाता|




आईएस ने फादर टॉम को मार्च में यमन के अदन शहर में मदर टेरेसा के मिशनरीज ऑफ चैरिटी के एक वृद्धाश्रम पर हमला करके बंधक बना लिया था| तब से वह आईएस के चंगुल में हैं|