सर्दी के मौसम में रात में सोने से पहले जरूर करें गुड़ का सेवन

सर्दी के मौसम में रात में सोने से पहले जरूर करें गुड़ का सेवन
सर्दी के मौसम में रात में सोने से पहले जरूर करें गुड़ का सेवन

लखनऊ। हमारे बड़े-बूढ़े हमेशा से गुड़ खाने की सलाह देते हैं। उनका कहना था कि देसी गुड़ खाने से तमाम तरह की बीमारियां अपने आप नष्ट हो जाती हैं। शायद इसलिए वह लोग खाने में गुड़ शामिल करते थे। इसके अलावा गर्मियों में गुड़ का शरबत इस्तेमाल में ज्यादा लाते थे। क्योंकि शक्कर और गुड़ में अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट होता है। कार्बोहाइड्रेट आपके शरीर के लिए ग्लूकोज का काम करता है। यह आपके वजन को संतुलित रखता है तथा दिमाग के सारे फंक्शन को दुरुस्त रखता है।

Winter Is Coming Ready To Eat One Piece Of Jaggery Every Night 3 :

  • सर्दियां आने वाली हैं इस मौसम में अक्सर लोगों को कफ और ख़ासी जैसी समस्याएं हो जाती हैं।
  • गुड़ शरीर को विषाक्त पदार्थों से छुटकारा पाने में मदद करता है।
  • गुड़ गले और फेफड़ों के संक्रमण के इलाज में फायदेमंद होता है।
  • गुड़ खाने से याद्दाश्त कमजोर नहीं होती, इसलिए अगर आप अपनी याद्दाश्त दुरुस्त रखना चाहते हैं, तो इसका नियमित सेवन करें।
  • थकान मिटाने के लिए गुड़ का शर्बत पीएं।
  • अगर आपके कान में दर्द रहता है, तो घी में गुड़ मिलाकर खाएं।
  • अगर आपको कम भूख लगती है, तो इसका सेवन करें।
  • अस्थमा से परेशान लोगों के लिए गुड़ और काले तिल से बने लड्डू खाना फायदेमंद होता हैं।
  • दिल की बीमारी से परेशान लोगों के लिए लाभदायक साबित होता है।
  • गुड़ खाने से आंखों की रोशनी बढ़ती है।इसे खाने से बैठे हुए गले को ठीक किया जा सकता है।
  • गुड़ से बनी चाय सेहत के लिए अच्छी मानी जाती है, इसलिए चाय में चीनी की जगह गुड़ डालें।
  • अगर आपको खट्टी डकारें आती हैं, तो गुड़ में काला नमक मिलाकर चाटें ऐसा करने से खट्टी डकारें आना बंद हो जाएंगी।
  • गुड़ शरीर का रक्त साफ करता है और मेटाबॉल्जिम ठीक करता है।
  • गुड़ ब्लड से खराब टॉक्सिन दूर करता है, जिससे त्वचा दमकती है और मुहांसे की समस्या नहीं होती है।
  • गुड़ की तासीर गर्म है, इसलिए इसका सेवन जुकाम और कफ से आराम दिलाता है।
लखनऊ। हमारे बड़े-बूढ़े हमेशा से गुड़ खाने की सलाह देते हैं। उनका कहना था कि देसी गुड़ खाने से तमाम तरह की बीमारियां अपने आप नष्ट हो जाती हैं। शायद इसलिए वह लोग खाने में गुड़ शामिल करते थे। इसके अलावा गर्मियों में गुड़ का शरबत इस्तेमाल में ज्यादा लाते थे। क्योंकि शक्कर और गुड़ में अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट होता है। कार्बोहाइड्रेट आपके शरीर के लिए ग्लूकोज का काम करता है। यह आपके वजन को संतुलित रखता है तथा दिमाग के सारे फंक्शन को दुरुस्त रखता है।
  • सर्दियां आने वाली हैं इस मौसम में अक्सर लोगों को कफ और ख़ासी जैसी समस्याएं हो जाती हैं।
  • गुड़ शरीर को विषाक्त पदार्थों से छुटकारा पाने में मदद करता है।
  • गुड़ गले और फेफड़ों के संक्रमण के इलाज में फायदेमंद होता है।
  • गुड़ खाने से याद्दाश्त कमजोर नहीं होती, इसलिए अगर आप अपनी याद्दाश्त दुरुस्त रखना चाहते हैं, तो इसका नियमित सेवन करें।
  • थकान मिटाने के लिए गुड़ का शर्बत पीएं।
  • अगर आपके कान में दर्द रहता है, तो घी में गुड़ मिलाकर खाएं।
  • अगर आपको कम भूख लगती है, तो इसका सेवन करें।
  • अस्थमा से परेशान लोगों के लिए गुड़ और काले तिल से बने लड्डू खाना फायदेमंद होता हैं।
  • दिल की बीमारी से परेशान लोगों के लिए लाभदायक साबित होता है।
  • गुड़ खाने से आंखों की रोशनी बढ़ती है।इसे खाने से बैठे हुए गले को ठीक किया जा सकता है।
  • गुड़ से बनी चाय सेहत के लिए अच्छी मानी जाती है, इसलिए चाय में चीनी की जगह गुड़ डालें।
  • अगर आपको खट्टी डकारें आती हैं, तो गुड़ में काला नमक मिलाकर चाटें ऐसा करने से खट्टी डकारें आना बंद हो जाएंगी।
  • गुड़ शरीर का रक्त साफ करता है और मेटाबॉल्जिम ठीक करता है।
  • गुड़ ब्लड से खराब टॉक्सिन दूर करता है, जिससे त्वचा दमकती है और मुहांसे की समस्या नहीं होती है।
  • गुड़ की तासीर गर्म है, इसलिए इसका सेवन जुकाम और कफ से आराम दिलाता है।