कारोबारी की पत्नी और बेटियोंं के शव बाथरूम मेें मिले, मचा हड़कम्प

h

आगरा। आगरा के शाहगंज की पॉश कॉलोनी पांडव नगर में रविवार की रात एक कारोबारी की पत्नी और दो मासूम बेटियां के शव बाथरूम में मिले। बाथरूम का गेट अंदर से बंद था। इसे तोड़कर शव बाहर निकाले गए। मौत की वजह दम घुटना मानी जा रही है। हालांकि पुलिस अभी किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है। गीजर की गैस लीक हो गई थी।

Woman And Her Two Daughter Found Dead In Bathroom In Agra :

रोहित धूपड़ की जयपुर हाउस में ललित गार्मेंट्स के नाम से दुकान है। पास में ही उनके पापा डॉण् नवीन धूपड़ का दवाखाना है। रोहित दुकान पर थे। नवीन और उनकी पत्नी विमल दवाखाने पर थे। पत्नी 38 वर्षीय रितु और दो बेटियां 3 वर्षीय कायरा और 6 वर्षीय सचिका घर में थीं।

शाम सात बजे रितू को उनकी मां राजारानी ने फोन किया तो यह नहीं उठा। रितू का मायका करहल में है। राजारानी ने दामाद रोहित को बताया कि रितू का फोन नहीं उठ रहा। रोहित ने पड़ोस में महिला से कहा कि वहां जाकर देखा। कोठी का अंदर का गेट बंद था। रितू को आवाज लगाई।

जवाब न मिलने पर रोहित को बताया। रोहित ने पुलिस को बुलाया। इसके बाद पहले कमरे का गेट तोड़ा गया और फिर बाथरूम का। बाथरूम में रितू, कायरा, सचिका के शव पड़े थे। इस संबंध में एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि तीनों की मृत्यु का कारण पोस्टमार्टम से ही स्पष्ट हो पाएगा। फील्ड यूनिट ने क्राइम सीन की पड़ताल की है। यूनिट की रिपोर्ट भी देखी जाएगी।

आगरा। आगरा के शाहगंज की पॉश कॉलोनी पांडव नगर में रविवार की रात एक कारोबारी की पत्नी और दो मासूम बेटियां के शव बाथरूम में मिले। बाथरूम का गेट अंदर से बंद था। इसे तोड़कर शव बाहर निकाले गए। मौत की वजह दम घुटना मानी जा रही है। हालांकि पुलिस अभी किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है। गीजर की गैस लीक हो गई थी। रोहित धूपड़ की जयपुर हाउस में ललित गार्मेंट्स के नाम से दुकान है। पास में ही उनके पापा डॉण् नवीन धूपड़ का दवाखाना है। रोहित दुकान पर थे। नवीन और उनकी पत्नी विमल दवाखाने पर थे। पत्नी 38 वर्षीय रितु और दो बेटियां 3 वर्षीय कायरा और 6 वर्षीय सचिका घर में थीं। शाम सात बजे रितू को उनकी मां राजारानी ने फोन किया तो यह नहीं उठा। रितू का मायका करहल में है। राजारानी ने दामाद रोहित को बताया कि रितू का फोन नहीं उठ रहा। रोहित ने पड़ोस में महिला से कहा कि वहां जाकर देखा। कोठी का अंदर का गेट बंद था। रितू को आवाज लगाई। जवाब न मिलने पर रोहित को बताया। रोहित ने पुलिस को बुलाया। इसके बाद पहले कमरे का गेट तोड़ा गया और फिर बाथरूम का। बाथरूम में रितू, कायरा, सचिका के शव पड़े थे। इस संबंध में एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि तीनों की मृत्यु का कारण पोस्टमार्टम से ही स्पष्ट हो पाएगा। फील्ड यूनिट ने क्राइम सीन की पड़ताल की है। यूनिट की रिपोर्ट भी देखी जाएगी।