CM योगी की रैली में पुलिस ने मुस्लिम महिला का उतरवाया बुर्का, मुस्लिम संगठनों ने किया विरोध

balia
बलिया। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को निकाय चुनाव के प्रचार-प्रसार के लिए बलिया पहुंचे। जहां उन्होंने पुलिस लाइन में एक जनसभा को संबोधित किया। योगी की रैली खत्म होते ही यहां की एक वीडियो तेज़ी से वायरल होने लगी जिसमें एक मुस्लिम महिला का बुर्का उतरवाया दिख रहा है। यूपी पुलिस इस महिला से जबरन बुर्का उतरवा रही हैं। बताया जा रहा है कि सुरक्षा की दृष्टी से ऐसा किया जा रहा हैं। हालांकि इस घटना के बाद…

बलिया। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को निकाय चुनाव के प्रचार-प्रसार के लिए बलिया पहुंचे। जहां उन्होंने पुलिस लाइन में एक जनसभा को संबोधित किया। योगी की रैली खत्म होते ही यहां की एक वीडियो तेज़ी से वायरल होने लगी जिसमें एक मुस्लिम महिला का बुर्का उतरवाया दिख रहा है। यूपी पुलिस इस महिला से जबरन बुर्का उतरवा रही हैं। बताया जा रहा है कि सुरक्षा की दृष्टी से ऐसा किया जा रहा हैं। हालांकि इस घटना के बाद से कई मुस्लिम संगठन इसका जमकर विरोध कर रहें हैं।

बता दें, मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ निकाय चुनाव के प्रचार संबंध में बलिया पहुंचे, जहां उन्होंने रैली को संबोधित किया। योगी की इस रैली में मैदान खचाखच भरा हुआ था। हालांकि सुरक्षा को कोई चूक न रह जाए इसलिए प्रशासन व्यवस्था पूरी तरह से मुस्तैद थी। दर्शकदीर्घा में एक मुस्लिम महिला बैठी हुई थी जिसे पुलिस ने शक के आधार पर जांच करनी शुरू कर दी। महिला बुर्के में थी इसलिए पुलिस ने पहले जबरन उसका बुर्का उतरवाया। महिला अपनी बेगुनाही की लाख दलीलें देती रही पुलिस ने एक न सुनी। बताया जा रहा है की बुर्का आसानी से न उतर पाने के कारण पुसिल ने वहां मौजूद महिलाओं की मदद ली। हद तो तब हो गयी जब पुलिस ने महिला के सर से दुपट्टे भी हटवा दिये। बताया जा रहा है कि यह महिला बीजेपी की सक्रिय कार्यकर्ता है। जो पिछले कई सालों से बीजेपी के लिए काम कर रही है।

महिला का दर्द

सायरा नाम की इस महिला का कहना है कि वो हमेशा रैलियों में बुर्का पहन कर ही जाती है, लेकिन आज तक किसी ने उसका बुर्का नहीं उतरवाया, ऐसा उसके साथ पहली बार हुआ है।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी: ये है बाराबंकी पुलिस का असली चेहरा, सरेराह मारपीट का वीडियो वायरल }

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने की कार्रवाई की मांग
इस मामले को लेकर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने इस घटना पर आपत्ति जताई है। बोर्ड के सदस्य मौलाना खालिद राशिद फिरंगी महली ने कहा, ‘पूरी दुनिया में हर एयरपोर्ट पर महिलाओं की तलाशी एक पर्दे वाले इनक्लोजर के अंदर होती है, फिर चाहे वह कितना भी आजाद ख्याल का देश क्यों ना हो।’ मौलाना फिरंगी महली ने कहा कि,’ रैली की भीड़ में किसी महिला का बुर्का उतरवा कर छीन लेना गैरकानूनी है। इसके लिए पुलिस वालों को सजा मिलनी चाहिए।’

{ यह भी पढ़ें:- नोएडा पुलिस की 'वसूली लिस्ट' वायरल, 16 पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज }

Loading...