1. हिन्दी समाचार
  2. सुसाइड नोट में लिखा ‘मोदीजी क्या अच्छे दिन आ गए’ और फंदे पर झूल गई विवाहिता

सुसाइड नोट में लिखा ‘मोदीजी क्या अच्छे दिन आ गए’ और फंदे पर झूल गई विवाहिता

Woman Committed Suicide By Hanging After Her Pay Loan Emi In Agra

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। ताजगंज के धांधूपुरा में भाई द्वारा मोबाइल की किश्त नहीं चुकाने और मायके वालों के तानों से क्षुब्ध महिला ने अपनी जान दे दी। रविवार उसका शव रसोई में फंदे पर लटका मिला। आत्मघाती कदम उठाने से पहले उसने चार पन्नों का सुसाइड नोट लिखा। इसमें महिला ने अपना दर्द बयां किया है, जिसे पढ़कर हर किसी की आंख में आंसू आ जाएंगे।

पढ़ें :- सरकारी नौकरी: भारतीय सेना ने निकाली अफसर पद पर भर्ती, ऐसे कर सकतें हैं जल्द अप्लाई

इसमें शशि ने अपनी मौत का जिम्मेदार अपने माता-पिता, भाई, बहन, देवर और देवरानी को ठहराया है। थाना प्रभारी ने बताया कि आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

सदर क्षेत्र के सेवला निवासी शशि पुत्री अजेंद्र की शादी 19 साल पहले गांव धांधूपुरा निवासी वीरेंद्र पुत्र लक्ष्मण सिंह से हुई थी। उनके दो बच्चे 16 साल का अमन और 14 साल की उन्नति है। वीरेंद्र ने बताया कि उसके छोटे भाई जितेंद्र की शादी भी शशि की बहन राजकुमारी से हुई थी। चार महीने पहले शशि के भाई योगेश ने 65 हजार रुपये कीमत का मोबाइल लोन पर खरीदा था।

सुसाइड नोट में मोदी का भी जिक्र शशि ने अपने सुसाइड नोट में प्रधानमंत्री मोदी का भी जिक्र किया है। उसने लिखा कि मोदी जी क्या अच्छे दिन आए हैं। लोन लेने के लिए हम जैसे लोगों को कितनी मेहनत करनी पड़ती है। आपने ट्रेनिंग सेंटर खोले, हमने भी खंदौली में 800 रुपये देकर ट्रेनिंग ली थी जिससे सर्टीफिकेट और लोन मिलने की उम्मीद थी। लेकिन वहां से भी कुछ नहीं हुआ, हम जैसे लोगों को कोई लोन नहीं देता।

अब जाके जैसे-तैसे लोन मिला, दुकान खोली तो अपने आ गए छीनने के लिए। जिस भाई के लिए मन्नतें मांगी, उसी के चलते मरना होगा सुसाइड नोट में शशि ने लिखा है कि उसे क्या पता था कि जिस भाई को आठ वर्ष की उम्र से मंदिरों में जाकर रो-रोकर मांगा। एक दिन उसी के चलते मरना होगा। जब मोबाइल लिया था तो बड़े प्यार से कहा था कि दीदी तुम चिंता मत करो मैं सारे पैसे दे दूंगा।

पढ़ें :- ट्रैक्टर रैली में बवाल: कई जगहों पर किसानों ने तोड़ी बैरिकेड्स, पुलिस से भी झड़प

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...