1. हिन्दी समाचार
  2. कार चलाना सीख रही महिला ने पांच मजदूरों को रौंदा, ठेकेदार की लापरवाही से हो रहे हादसे

कार चलाना सीख रही महिला ने पांच मजदूरों को रौंदा, ठेकेदार की लापरवाही से हो रहे हादसे

Woman Learning To Drive Car Crushed Five Laborers Killed One

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। बीकेटी क्षेत्र में चंद्रिका देवी रोड के कठवारा गांव में रविवार दोपहर एक तेज रफ्तार कार ने पांच मजदूरों को रौंद दिया। हादसे में मजदूर बुद्धालाल (50) की मौत हो गई, जबकि चार गंभीर रूप से घायल हैं। वहीं, हादसे के दौरान कार महिला चला रही थी। बताया जा रहा है कि महिला कार चलाना सीख रही थी। इस दौरान हादसा हुआ है। वहीं, पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्जकर महिला को ​हिरासत में ले लिया है।

पढ़ें :- पाकिस्तान का सबसे बड़ा कुबूलनामा: मंत्री फवाद बोले-पुलवामा हमला इमरान सरकार की बड़ी कामयाबी

प्रभारी निरीक्षक योगेंद्र कुमार सिंह के मुताबिक, चंद्रिका देवी रोड पर सड़क चौड़ीकरण का काम चल रहा है। दोपहर 12 बजे कठवारा गांव के पास 15 नंबर राजकीय नलकूप पर दर्जनों मजदूर काम कर रहे थे। इस दौरान बीकेटी से कठवारा जा रही तेज रफ्तार कार ने मजदूरों को रौंद दिया। हादसे में पांच मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गये।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां खानपुर निवासी बुद्धालाल की मौत हो गई। वहीं, हादसे में लल्ला, छन्ना उर्फ छविनाथ, कृष्णकुमार और शाहपुर का राम खिलावन घायल हो गए। हालत गंभीर देख राम खिलावन व कृष्णकुमार को ट्रॉमा रेफर कर दिया गया।

एसपी ग्रामीण हृदेश कुमार के मुताबिक, महिला गोमती नगर की रहने वाली है और आरोपी का नाम पूजा सिंह है। महिला चंद्रिका देवी दर्शन करने जा रही थी। इस दौरान रोड का कार्य कर रहे मजदूर सड़क किनारे आराम कर रहे थे। गाड़ी चला रही महिला ने उन सभी मजदूरों पर गाड़ी चढ़ा दी, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई।

खुदी पड़ी सड़क, आए दिन हो रहे हादसे  
कई ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि बख्शी का तालाब से लेकर चंद्रिका देवी मंदिर तक करीब 12 किलोमीटर तक चौड़ीकरण के नाम पर दोनों और सड़क खोदकर छोड़ दी गई है, जिससे आए दिन हादसे हो रहे हैं। ग्रामीणों ने बताया कि माहभर में यहां हुए चार से अधिक सड़क हादसों में तीन लोगों की मौत हो चुकी है।

पढ़ें :- केंद्रीय कैबिनेट का बड़ा फैसला: अब खाद्यान को जूट के थैलों में पैक करना अनिवार्य

ठेकेदार की लापरवाही से हो रहे हादसे
सूत्रों की माने तो इस साइड का काम सुनील यादव की फर्म के हाथ में है। इनकी कंपनी पहले भी कई विवादों में रह चुकी है। सूत्रों की माने तो सुनील यादव की जिस फर्म को यह काम आंवटन है उस फर्म के खिलाफ पहले भी जांच के आदेश हो चुके हैं लेकिन अधिकारियों से सांठगांठ के कारण फर्म और ठेकेदार पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...