शर्मनाक: सपा की दो नेत्रियों के अश्लील वीडियो वायरल, पीड़िताओं ने दर्ज कराई एफआईआर

sapa women leader
शर्मनाक: सपा की दो नेत्रियों के अश्लील वीडियो वायरल, पीड़िताओं ने दर्ज कराई एफआईआर

लखनऊ। इटावा में समाजवादी पार्टी की दो नेत्रियों के अश्लील फोटो व वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए। दोनों महिलाओं का कहना है कि उन्हे बदनाम करने के लिए फोटो एडिट करके वायरल किए गए है। इसको लेकर दोनों ने इटावा में ही तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज कराई है।

Women Leader Of Samajwadi Party Fake Adult Video Viral Fir Lodged :

वीडियो को वायरल करने वाले शख्स ने पोस्ट में लिखा है कि ये सपा की नई अभिनेत्रियां हैं, दोनों ही नेता पार्टी में जिम्मेदार पद पर हैं। इस वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद दोनों महिलाओं को लोगों ने ट्रोल करना शुरु कर दिया, जिसके बाद उन दोनों ने राजधानी के हजतगंज कोतवाली परिसर स्थित साइबर क्राइम सेल में भी इसकी शिकायत की। साइ​बर क्राइम सेल के नोडल अधिकारी और सीओ हजरतगंज के मुताबिक ये शर्मनाक हरकत करने वाले शख्स का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है।

पीड़िताओं ने आरोप लगाया है कि वीडियो और तस्वीर से उनका चेहरा नहीं मिलता है लेकिन वायरल करने वाले ने उनके पद और नाम का गलत इस्तेमाल कर उन्हें बदनाम करने की कोशिश की है। दोनों का आरोप है कि उनके नाम से साइबर अपराधियों ने फर्जी फेसबुक आईडी बनाई और इसके बाद कई अश्लील फोटो व वीडियो पोस्ट किया है।

दोनों महिला नेत्रियों ने मामले की जानकारी देने के लिए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से भी मिलने का प्रयास किया, लेकिन उनके व्यस्त होने के कारण वे उनसे नहीं मिल सकी। फिलहाल उन लोगों ने पार्टी के अन्य जिम्मेदार लोगों को पूरे मामले से अवगत करा दिया है। दोनों ही नेत्रियों ने बदायूं सांसद धर्मेंद्र यादव से मुलाकात कर अश्लील वीडियो वायरल कर उन्हें बदनाम करने की शिकायत की है।

 

लखनऊ। इटावा में समाजवादी पार्टी की दो नेत्रियों के अश्लील फोटो व वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए। दोनों महिलाओं का कहना है कि उन्हे बदनाम करने के लिए फोटो एडिट करके वायरल किए गए है। इसको लेकर दोनों ने इटावा में ही तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज कराई है। वीडियो को वायरल करने वाले शख्स ने पोस्ट में लिखा है कि ये सपा की नई अभिनेत्रियां हैं, दोनों ही नेता पार्टी में जिम्मेदार पद पर हैं। इस वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद दोनों महिलाओं को लोगों ने ट्रोल करना शुरु कर दिया, जिसके बाद उन दोनों ने राजधानी के हजतगंज कोतवाली परिसर स्थित साइबर क्राइम सेल में भी इसकी शिकायत की। साइ​बर क्राइम सेल के नोडल अधिकारी और सीओ हजरतगंज के मुताबिक ये शर्मनाक हरकत करने वाले शख्स का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। पीड़िताओं ने आरोप लगाया है कि वीडियो और तस्वीर से उनका चेहरा नहीं मिलता है लेकिन वायरल करने वाले ने उनके पद और नाम का गलत इस्तेमाल कर उन्हें बदनाम करने की कोशिश की है। दोनों का आरोप है कि उनके नाम से साइबर अपराधियों ने फर्जी फेसबुक आईडी बनाई और इसके बाद कई अश्लील फोटो व वीडियो पोस्ट किया है। दोनों महिला नेत्रियों ने मामले की जानकारी देने के लिए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से भी मिलने का प्रयास किया, लेकिन उनके व्यस्त होने के कारण वे उनसे नहीं मिल सकी। फिलहाल उन लोगों ने पार्टी के अन्य जिम्मेदार लोगों को पूरे मामले से अवगत करा दिया है। दोनों ही नेत्रियों ने बदायूं सांसद धर्मेंद्र यादव से मुलाकात कर अश्लील वीडियो वायरल कर उन्हें बदनाम करने की शिकायत की है।