महिला चुनाव अधिकारी की गोली मारकर हत्या, एक वाहन भी जलाया गया

Lok Sabha Elections: Maoists attack polling party

ओडिशा। ओडिशा के कंधमाल जिले में बुधवार को दूसरे चरण के मतदान से पहले माओवादियों ने दो घटनाओं को अंजाम दिया। एक घटना में माओवादियों ने मतदान केंद्र जा रही एक महिला निर्वाचन अधिकारी की गोली मारकर हत्या कर दी जबकि दूसरी घटना में उन्होंने चुनावी वाहन में आग लगा दी। पुलिस ने यह जानकारी दी।

Women Polling Officer Was Killed In Odishas Kandhmal District Just Before Voting :

दोनों घटनाएं माओवाद प्रभावित कंधमाल जिले की हैं। माओवादियों ने यहां लोगों से चुनाव का बहिष्कार करने को कहा है। पुलिस ने बताया कि माओवादियों ने महिला निर्वाचन अधिकारी को उस वक्त निशाना बनाया जब वह दूसरे चरण के मतदान की पूर्व संध्या पर निर्वाचन कर्मियों की एक टीम को मतदान केंद्र लेकर जा रही थीं। डीजीपी बीके शर्मा ने बताया कि सेक्टर अधिकारी संयुक्ता दिगल को उस वक्त गोली मारी गई जब वह बलांदपदा गांव के पास जंगल से गुजरते समय सड़क पर पड़ी एक संदिग्ध वस्तु को देखने के लिए वाहन से नीचे उतरी थीं। यह गांव गोछापाड़ा पुलिस थाना के अंतर्गत पड़ता है।

हालांकि वाहन में मौजूद चार अन्य निर्वाचन कर्मी सुरक्षित हैं और उन्हें कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। घटना कंधमाल लोकसभा सीट के अंतर्गत आने वाले फुलबनी विधानसभा क्षेत्र में हुई। यहां गुरुवार को सुबह 7 बजे से मतदान होना है। दूसरी घटना फिरिंगिया पुलिस थाना इलाके के एक सुदूरवर्ती गांव की है। माओवादियों ने चुनाव अधिकारियों को मतदान केंद्र ले जा रहे चुनावी वाहन में आग लगा दी।

कंधमाल जिलाधिकारी सह निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि इस संबंध में शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार वर्दीधारी सशस्त्र माओवादियों ने पहले मतदान अधिकारियों को वाहन से नीचे उतरने को कहा और फिर उसमें आग लगा दी। पुलिस ने बताया कि सभी अधिकारी सुरक्षित हैं लेकिन यह साफ नहीं है कि चुनाव संबंधी सामग्री जैसे कि ईवीएम के साथ क्या हुआ। पुलिस को आशंका है कि

इन दोनों घटनाओं के पीछे सीपीआई माओवादीके केकेबीएन कालाहांडी.कंधमाल.बौध.नयागढ़ खंड का हाथ है। कुछ दिन पहले माओवादियों ने जिले में पोस्टर और बैनर लगाकर लोगों से चुनाव का बहिष्कार करने को कहा था। कंधमाल जिले में माओवादियों की मौजूदगी को देखते हुए चुनाव आयोग ने यहां के सात निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान का समय सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक रखा है। राज्य में लोकसभा और विधानसभा दोनों के लिए एकसाथ मतदान हो रहे हैं। पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को हुआ था। इसके अलावा राज्य में तीन और चरण में 18 23 और 29 अप्रैल को मतदान होने वाला है।

ओडिशा। ओडिशा के कंधमाल जिले में बुधवार को दूसरे चरण के मतदान से पहले माओवादियों ने दो घटनाओं को अंजाम दिया। एक घटना में माओवादियों ने मतदान केंद्र जा रही एक महिला निर्वाचन अधिकारी की गोली मारकर हत्या कर दी जबकि दूसरी घटना में उन्होंने चुनावी वाहन में आग लगा दी। पुलिस ने यह जानकारी दी। दोनों घटनाएं माओवाद प्रभावित कंधमाल जिले की हैं। माओवादियों ने यहां लोगों से चुनाव का बहिष्कार करने को कहा है। पुलिस ने बताया कि माओवादियों ने महिला निर्वाचन अधिकारी को उस वक्त निशाना बनाया जब वह दूसरे चरण के मतदान की पूर्व संध्या पर निर्वाचन कर्मियों की एक टीम को मतदान केंद्र लेकर जा रही थीं। डीजीपी बीके शर्मा ने बताया कि सेक्टर अधिकारी संयुक्ता दिगल को उस वक्त गोली मारी गई जब वह बलांदपदा गांव के पास जंगल से गुजरते समय सड़क पर पड़ी एक संदिग्ध वस्तु को देखने के लिए वाहन से नीचे उतरी थीं। यह गांव गोछापाड़ा पुलिस थाना के अंतर्गत पड़ता है। हालांकि वाहन में मौजूद चार अन्य निर्वाचन कर्मी सुरक्षित हैं और उन्हें कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। घटना कंधमाल लोकसभा सीट के अंतर्गत आने वाले फुलबनी विधानसभा क्षेत्र में हुई। यहां गुरुवार को सुबह 7 बजे से मतदान होना है। दूसरी घटना फिरिंगिया पुलिस थाना इलाके के एक सुदूरवर्ती गांव की है। माओवादियों ने चुनाव अधिकारियों को मतदान केंद्र ले जा रहे चुनावी वाहन में आग लगा दी। कंधमाल जिलाधिकारी सह निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि इस संबंध में शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार वर्दीधारी सशस्त्र माओवादियों ने पहले मतदान अधिकारियों को वाहन से नीचे उतरने को कहा और फिर उसमें आग लगा दी। पुलिस ने बताया कि सभी अधिकारी सुरक्षित हैं लेकिन यह साफ नहीं है कि चुनाव संबंधी सामग्री जैसे कि ईवीएम के साथ क्या हुआ। पुलिस को आशंका है कि इन दोनों घटनाओं के पीछे सीपीआई माओवादीके केकेबीएन कालाहांडी.कंधमाल.बौध.नयागढ़ खंड का हाथ है। कुछ दिन पहले माओवादियों ने जिले में पोस्टर और बैनर लगाकर लोगों से चुनाव का बहिष्कार करने को कहा था। कंधमाल जिले में माओवादियों की मौजूदगी को देखते हुए चुनाव आयोग ने यहां के सात निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान का समय सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक रखा है। राज्य में लोकसभा और विधानसभा दोनों के लिए एकसाथ मतदान हो रहे हैं। पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को हुआ था। इसके अलावा राज्य में तीन और चरण में 18 23 और 29 अप्रैल को मतदान होने वाला है।