महिला विश्व कप : पाकिस्तान ,भारत आज होंगे आमने सामने

डर्बी | शानदार फॉर्म में चल रही भारतीय महिला क्रिकेट टीम आईसीसी महिला विश्व कप के अपने तीसरे मैच में आज चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से भिड़ेगी। भारत ने अपने पहले दो मैचों में मेजबान इंग्लैंड और वेस्टइंडीज को हराया है।

कप्तान मिताली राज, स्मृति मंधाना और पूनम राउत के रूप में भारत का शीर्ष क्रम इस समय अपने शबाब पर है। वहीं तेज गेंदबाजों का अनुभव और स्पिनरों की किफायती गेंदबाजी भारतीय आक्रमण का अचूक हथियार साबित हुए हैं।

{ यह भी पढ़ें:- VIDEO: इस गेंदबाज ने कराई पाकिस्तान की बेइज्जती, जमकर हो रहा वायरल }

भारत ने विश्व कप में पाकिस्तान से अब तक खेले अपने दोनों मुकाबले जीते हैं। उसे पहली जीत 2009 में ब्रैडमैन ओवल में दस विकेट से हासिल हुई थी। उसे दूसरी जीत पिछले विश्व कप में कटक में हासिल हुई जहां भारत छह विकेट से विजयी रहा था।

कुल मिलाकर दोनों टीमों के बीच अब तक सात एकदिवसीय मुकाबले हुए हैं और सातों में भारत ने बाजी मारी है। इस समय मिताली जबर्दस्त फॉर्म मे हैं। वहीं भारत की बाएं हाथ की बल्लेबाज स्मृति दो मैचों में एक शतक और एक अर्धशतक की मदद से 196 रन बना चुकी हैं। उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ पिछले मैच में शतक और इंग्लैंड के खिलाफ अर्धशतक जड़े थे।

{ यह भी पढ़ें:- हार के बाद बौखलाए कंगारू कप्तान, बोले- हम हार के ही हकदार थे }

तीन बार की चैम्पियन इंग्लैंड और पिछली उपविजेता वेस्टइंडीज को हराकर भारत ने करीब-करीब सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है।

पाकिस्तान के लिए सबसे बड़ा झटका उसकी सबसे ऊंची रैंक की बल्लेबाज बिस्माह मारूफ का चोटिल होना है। उनके के दाएं हाथ में चोट आई है।

पाक की उम्मीदें सना मीर पर होंगी। पाकिस्तान ने बिस्माह मारूफ की जगह 25 वर्षीय इराम को अपनी टीम में शामिल किया है। उन्होंने सात एकदिवसीय मैचों में कुल 37 रन बनाए हैं और उन्हें इस दौरान तीन विकेट हासिल हुए। इसके अलावा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में एक हजार रन और सौ विकेट का डबल पूरा करने वाली टीम की कप्तान सना मीर पर पाकिस्तान टीम को काफी भरोसा है।

{ यह भी पढ़ें:- IND Vs AUS: अगली जीत के साथ कप्तान कोहली तोड़ देंगे कैप्टन कूल का रिकॉर्ड }

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ इस विश्व कप के पहले मैच में 207 रनों का पीछा करते हुए पाकिस्तान की टीम तीन विकेट से हार गई थी। दूसरे मैच में इंग्लैंड के खिलाफ केवल 107 रन पर लुढ़ककर पाकिस्तान टीम के हौसले पस्त होते दिखाई दिए और रही सही कसर उसकी टी-20 टीम की कप्तान बिस्माह मारूफ की चोट से पूरी हो गई।