1. हिन्दी समाचार
  2. वर्ल्ड बैंक ने कहा- कोरोना महामारी की वजह से 6 करोड़ लोग हो सकते है गरीब

वर्ल्ड बैंक ने कहा- कोरोना महामारी की वजह से 6 करोड़ लोग हो सकते है गरीब

World Bank Said 60 Million People Can Be Poor Because Of Corona

विश्वबैंक का कहना है कि कोरोना वायरस महामारी के कारण दुनिया भर में 6 करोड़ से अधिक लोग गरीबी के दलदल में फंसेंगे. विश्वबैंक ने कोरोना संकट से निपटने के लिए 100 विकासशील देशों को 160 अरब डॉलर की सहायता देने की घोषणा की है. यह पूरी सहायता 15 महीने के समय में दी जाएगी.

पढ़ें :- दिल्ली में 10 महीने बाद खुले स्कूल, सरकार ने जारी किया दिशा-निर्देश

विश्वबैंक के अध्यक्ष डेविड मालपॉस ने एक कांफ्रेन्स कॉल में संवाददाताओं से कहा, ‘‘इस महामारी और विकसित अर्थव्यवस्थाओं के बंद होने से 6 करोड़ से ज्यादा लोग गरीबी की दलदल में फंस जाएंगे. हाल के दिनों में गरीबी खत्म करने की दिशा में हमने जो प्रगति की है, उसमें से बहुत कुछ खत्म हो जाएगा.”

100 देशों में आपात सहायता अभियान शुरू

उन्होंने कहा, ‘‘विश्वबैंक समूह ने तेजी से कदम उठाया है और 100 देशों में आपात सहायता अभियान शुरू किया है. 160 अरब डॉलर की राशि 15 महीने में दी जाएगी.” विश्वबैंक से सहायता पा रहे इन 100 देशों में दुनिया की 70 प्रतिशत आबादी रहती है. इनमें से 39 अफ्रीका के उप-सहारा इलाके के हैं. कुल परियोजनाओं में एक तिहाई अफगानिस्तान, चाड, हैती और नाइजर इलाकों में हैं.

उन्होंने कहा कि कार्यक्रम को देशों के हिसाब से तैयार किया है जिससे वह कोरोना संकट का मुकाबला कर सकें. मालपॉस ने कहा कि इस कार्यक्रम से स्वास्थ्य व्यवस्था मजबूत होगी.

पढ़ें :- 'मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला' पर बन रही वेब सीरीज पर नाराज पत्नी ऋचा, भेजा लीगल नोटिस

बढ़ता जा रहा है कोरोना का कहर

कोरोना वायरस का प्रकोप दुनियाभर में बढ़ता ही जा रहा है. दुनिया के 213 देशों में पिछले 24 घंटे में 94,751 नए कोरोना के मामले सामने आए और मरने वाले लोगों की संख्या में 4,570 का इजाफा हो गया. वर्ल्डोमीटर के मुताबिक, दुनियाभर में अब तक करीब 50 लाख लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं.

इनमें से 3 लाख 24 हजार 535 लोगों की मौत भी हो चुकी है. वहीं 19 लाख 56 हजार 316 लोग संक्रमण मुक्त भी हुए हैं. दुनिया के करीब 68 फीसदी कोरोना के मामले सिर्फ 11 देशों से आए हैं. इन देशों में कोरोना पीड़ितों की संख्या करीब 34 लाख है.

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...