नूडल्स खाने की लत से 10 साल के बच्चे का वजन हुआ 200 किलो

World Fattest Child Weight 200 Kilo

नई दिल्ली। फास्ट फूड के शौकिनों के लिये एक बुरी खबर है। खासकर नूडल्स और कोला को अपनी दिनचर्या में ज्यादा शामिल करने वाले ये खबर पढ़कर जरूर चौंक जाएंगे। अक्सर लोग जल्दबाज़ी में फास्ट फूड के सहारे अपना भेट भर लेते हैं। एक ऐसी ही खबर सामने आई है, जहां नूडल्स और कोला का ज्यादा सेवन करने से एक 10 साल के बच्चे का वजन 200 किलो हो गया। तेजी से वजन बढ़ने के कारण बच्चे की सर्जरी करानी पड़ी, हालांकि अन्य बच्चों के मुक़ाबले अभी भी उस बच्चे का वजन उम्र से कहीं ज्यादा है।




मामला इंडोनेशिया का है, जहां रहने वाले 10 साल के आर्य मोसंत्री को खाने में नूडल्स, चावल और मछली ज्यादा पसंद थे। आर्य के माता-पिता पेशे से किसान हैं। उनका कहना है कि दिन भर खाते रहने के बावजूद आर्य मोसंत्री की भूख नहीं मिटती है। परिजन आर्य को डॉक्टर के पास ले गए, जहां डॉक्टर्स ने सलाह दी कि वो नूडल्स और मछ्ली, चावल का सेवन छोड़ दे। डॉक्टरों ने आर्य को कई स्वास्थ्य वर्धन दवाइयां दी, लेकिन फिर भी बच्चे के वजन में कोई बदलाव नहीं हुआ।




आखिर में डॉक्टरों ने आर्य मोसंत्री की सर्जरी की। सर्जरी के बाद भी आर्य का वजन 16 किलो ही कम हो सका। वहीं डॉक्टरों का दावा है कि सर्जरी कर आर्य के पेट का आकार करीब 85 फीसदी तक कम कर दिया गया है। आर्य की मां रकैया कहती हैं कि नाप के कपड़े नहीं मिलने की वजह से उनका बेटा स्कूल नहीं जा पा रहा है। वह घर के एक बाथटब में बैठा रहता है। उसके नाप के कपड़े भी नहीं हैं।

नई दिल्ली। फास्ट फूड के शौकिनों के लिये एक बुरी खबर है। खासकर नूडल्स और कोला को अपनी दिनचर्या में ज्यादा शामिल करने वाले ये खबर पढ़कर जरूर चौंक जाएंगे। अक्सर लोग जल्दबाज़ी में फास्ट फूड के सहारे अपना भेट भर लेते हैं। एक ऐसी ही खबर सामने आई है, जहां नूडल्स और कोला का ज्यादा सेवन करने से एक 10 साल के बच्चे का वजन 200 किलो हो गया। तेजी से वजन बढ़ने के कारण बच्चे की सर्जरी करानी…