World Mental Health Day: मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए अपनाएं ये तरीके

World Mental Health Day: मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए अपनाएं ये तरीके
World Mental Health Day: मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए अपनाएं ये तरीके

नई दिल्ली।हर साल दुनियाभर में 10 अक्टूबर को वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे मनाया जाता है। इस दिन को मनाने के पीछे मेंटल हेल्थ यानी मानसिक स्वास्थ्य को लेकर लोगों के बीच जागरुकता फैलाना, ताकि दुनियाभर में लोग सिर्फ शारीरिक स्वास्थ्य ही नहीं बल्कि मानसिक स्वास्थ्य के प्रति सजग और सतर्क बनें रहे। इस बात का खासध्यान रखना चाहिए कि अगर किसी व्यक्ति को किसी तरह की मानसिक दिक्कत होती है तो उसे नजरअंदाज करने के बजाए उसके बारे में बात करनी चाहिए और मेंटल हेल्थकेयर को भी उतनी ही अहमियत देनी चाहिए जितनी फिजिकल हेल्थ को दी जाती है।

World Mental Health Day Some Ways To Keep Yourself Mentally Fit :

इस साल की थीम

इस साल वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे का थीम ‘सुइसाइड प्रिवेंशन यानी आत्महत्या की रोकथाम’ राखी गई है। आइये जानते हैं इसके कारण और इससे बचने के उपाय के बारे में….

मानसिक बीमारियों की वजह

  • अगर मानसिक स्वास्थ्य पर भी पूरा ध्यान दिया जाए तो मानसिक बीमारियों को काफी हद तक रोका जा सकता है।
  • काम से जुड़ा स्ट्रेस, रिलेशनशिप का स्ट्रेस, पैसों से जुड़ा तनाव, इमोशन से जुड़ा तनाव, ऐंग्जाइटी यानी बेचैनी आदि कई फैक्टर्स हैं जो इंसान को मानसिक रूप से बीमार बनाते हैं।
  • साइकायट्रिस्ट डॉ कृष्णमूर्ति कहते हैं कि मेडिटेशन के जरिए स्ट्रेस और तनाव को कम किया जा सकता है।

मेंटल हेल्थ बनाए रखने के 6 तरीके

  • बैलेंस्ड डायट का सेवन करें जिसमें फाइबर, प्रोटीन, हेल्दी फैट, कार्बोहाइड्रेट, विटमिन्स और मिनरल्स सबकुछ हो।
  • डिप्रेशन जैसी कई समस्याओं को दूर करने में मददगार है हेल्दी फूड।
  • फिजिकल ऐक्टिविटी और एक्सर्साइज को डेली रूटीन का हिस्सा बनाएं। खुद को शारीरिक और मानसिक रूप से फिट रखने का यह सबसे अच्छा और आसान तरीका है।
  • हेल्दी बॉडी और माइंड के लिए यह बेहद जरूरी है कि आप रात में कम से कम 6-7 घंटे की अच्छी और चैन की नींद लें।
  • अगर लाइफ में सबकुछ आपके मन और प्लान के हिसाब से नहीं हो रहा तब भी अपनी सोच को सकारात्मक बनाए रखें।
  • हर साल एक बार मेंटल हेल्थ प्रफेशनल से भी अपना चेकअप करवाएं। जरूरी नहीं कि हमेशा बीमार पड़ने पर ही डॉक्टर के पास पहुंचा जाए।
  • मेडिटेशन के जरिए स्ट्रेस और तनाव को कम किया जा सकता है।
नई दिल्ली।हर साल दुनियाभर में 10 अक्टूबर को वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे मनाया जाता है। इस दिन को मनाने के पीछे मेंटल हेल्थ यानी मानसिक स्वास्थ्य को लेकर लोगों के बीच जागरुकता फैलाना, ताकि दुनियाभर में लोग सिर्फ शारीरिक स्वास्थ्य ही नहीं बल्कि मानसिक स्वास्थ्य के प्रति सजग और सतर्क बनें रहे। इस बात का खासध्यान रखना चाहिए कि अगर किसी व्यक्ति को किसी तरह की मानसिक दिक्कत होती है तो उसे नजरअंदाज करने के बजाए उसके बारे में बात करनी चाहिए और मेंटल हेल्थकेयर को भी उतनी ही अहमियत देनी चाहिए जितनी फिजिकल हेल्थ को दी जाती है। इस साल की थीम इस साल वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे का थीम 'सुइसाइड प्रिवेंशन यानी आत्महत्या की रोकथाम' राखी गई है। आइये जानते हैं इसके कारण और इससे बचने के उपाय के बारे में.... मानसिक बीमारियों की वजह
  • अगर मानसिक स्वास्थ्य पर भी पूरा ध्यान दिया जाए तो मानसिक बीमारियों को काफी हद तक रोका जा सकता है।
  • काम से जुड़ा स्ट्रेस, रिलेशनशिप का स्ट्रेस, पैसों से जुड़ा तनाव, इमोशन से जुड़ा तनाव, ऐंग्जाइटी यानी बेचैनी आदि कई फैक्टर्स हैं जो इंसान को मानसिक रूप से बीमार बनाते हैं।
  • साइकायट्रिस्ट डॉ कृष्णमूर्ति कहते हैं कि मेडिटेशन के जरिए स्ट्रेस और तनाव को कम किया जा सकता है।
मेंटल हेल्थ बनाए रखने के 6 तरीके
  • बैलेंस्ड डायट का सेवन करें जिसमें फाइबर, प्रोटीन, हेल्दी फैट, कार्बोहाइड्रेट, विटमिन्स और मिनरल्स सबकुछ हो।
  • डिप्रेशन जैसी कई समस्याओं को दूर करने में मददगार है हेल्दी फूड।
  • फिजिकल ऐक्टिविटी और एक्सर्साइज को डेली रूटीन का हिस्सा बनाएं। खुद को शारीरिक और मानसिक रूप से फिट रखने का यह सबसे अच्छा और आसान तरीका है।
  • हेल्दी बॉडी और माइंड के लिए यह बेहद जरूरी है कि आप रात में कम से कम 6-7 घंटे की अच्छी और चैन की नींद लें।
  • अगर लाइफ में सबकुछ आपके मन और प्लान के हिसाब से नहीं हो रहा तब भी अपनी सोच को सकारात्मक बनाए रखें।
  • हर साल एक बार मेंटल हेल्थ प्रफेशनल से भी अपना चेकअप करवाएं। जरूरी नहीं कि हमेशा बीमार पड़ने पर ही डॉक्टर के पास पहुंचा जाए।
  • मेडिटेशन के जरिए स्ट्रेस और तनाव को कम किया जा सकता है।