स्लीप डे स्पेशल: रहना चाहते हैं स्वस्थ तो सुकून की नींद है जरूरी

लखनऊ। सोना किसे नहीं पसंद होता बस मौके की तलाश होती है कि कब हम हल्की सी झपकी ले लें। कभी ऑफिस की टेबल पर, कभी स्कूल की डेस्क पर बच्चे हो या ऑफिस के कर्मचारी सभी चाहते हैं कि जल्दी से काम निपटा कर थोड़ा सा आराम कर लें। स्वस्थ रहने के लिए अच्छी नींद लेना बहुत जरूरी होता है। अच्छी नींद लेने के लिए बेहद जरूरी है कि आप जहां सोते हैं वहां का वातावरण भी अच्छा हो सुकून वाला हो। अगर आप गलत समय पर गलत जगह सोते हैं तो उससे आपको नुकसान भी हो सकता है। 17 मार्च यानि वर्ल्ड स्लीप डे पर हम आपको बताने जा रहे हैं कि आप किस तरह अपने सोने के वातावरण को सुकून वाला और अपनी नींद को अच्छी बना सकते हैं।



हमेशा साफ बिस्तर पर सोएँ

अगर आपको सुकून की नींद चाहिये तो इसके लिए यह जरूरी नहीं कि आपका कमरा खूबसूरत सजा हो या आपका बिस्तर बहुत महंगा हो। सुकून से सोने के लिये साफ सुथरे बिस्तर की जरूरत होती है न कि खूबसूरत लैम्प और बड़े कमरे की।

आँखों को भी राहत दें

अगर आपकी भी आदत है देर रात तक फोन या लैपटॉप इस्तेमाल करने की तो इसका प्रभाव भी हमारी नींद पर पड़ता है। अगर आपको नींद नहीं आ रही तो आप या तो किताब पढे या फिर अपने पसंदीदा गीत सुने। ज्यादा रात तक फोन का इस्तेमाल करने पर आँख की पुतलियों पर ज़ोर पड़ता है जिससे हमें जल्दी नींद नहीं आती।

रात का हल्का भोजन लें

रात के वक्त उतना ही भूजन लें जितनी आपको भूख है। स्वादिष्ट खाने की लालच में आकर भूख से ज्यादा भोजन न लें इससे आपके शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। रात का भोजन हल्का लेने से आपका वजह भी नहीं बढ़ेगा और अच्छी नींद के साथ खाना भी पचेगा।



अगर आप 24 घंटे में छह घंटे की नींद पूरी तरह नहीं ले रहे हैं तो आप बीमारियों को आमंत्रित कर रहे हैं। एक शोध में इस बात का पता चला कि अगर आप अच्छी नींद ले रहे हैं तो आपको अल्जाइमर का खतरा भी कई गुना कम हो जाता है। पूरी नींद लेने से हमारे मस्तिष्क की कोशिकाएं भी रिपेयर होती हैं।