1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3.  World Soil Day 2021: आज है विश्व मृदा दिवस, मिट्टी प्रबंधन के महत्व लिए ये दिन है समर्पित

 World Soil Day 2021: आज है विश्व मृदा दिवस, मिट्टी प्रबंधन के महत्व लिए ये दिन है समर्पित

मिट्टी के विविध रूप है। दुनियाभर में मिट्टी की गुणवत्ता को लेकर लेकर खोज होती रही है। मिट्टी खाद्य सुरक्षा की गारंटी है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

World Soil Day 2021: मिट्टी के विविध रूप है। दुनियाभर में मिट्टी की गुणवत्ता को लेकर लेकर खोज होती रही है। मिट्टी खाद्य सुरक्षा की गारंटी है। हर साल 5 दिसंबर को दुनियाभर में विश्व मृदा दिवस मनाया जाता है। दिसंबर 2013 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 68वीं सामान्य सभा की बैठक में पारित संकल्प के द्वारा 5 दिसंबर को विश्व मृदा दिवस मनाने का संकल्प लिया गया था। मिट्टी की दुनिया को अधिक चमकदार बनाने के लिए मिट्टी प्रबंधन के महत्व और इसे इस तरह रखने के लिए ये दिन समर्पित किया जाता है।

पढ़ें :- अरुणाचल से लापता युवक चीन में ही मिला, ड्रैगन ने किया स्वीकार, कानूनी प्रक्रिया के बाद होगी वापसी

इस दिवस को खाद्य व कृषि संगठन द्वारा मनाया जाता है।दुनिया के कई हिस्सों में उपजाऊ मिट्टी बंजर हो रही है। जिसका कारण किसानों द्वारा ज्यादा रासायनिक खादों और कीटनाशक दवाइयों का इस्तेमाल करना है।

मिट्टी में उर्वरता शक्ति को बनाये रखने के लिए लंबी और जल्दी से बढ़ने वाली फसलों के बाद बौनी फसलों को लगाएं, क्योंकि गन्ने के बाद चारा फसलों को उगाने से मिट्टी की उर्वरता घटती है, इसलिए गन्ने के बाद दलहनी फसलों की खेती करें। इससे मिट्टी की उर्वरता शक्ति बढ़ती है।

खेत में अधिक पानी वाली फसल करने के बाद कम पानी वाली फसलों को लगाएं। जैसे, धान के बाद मटर, मसूर, सरसों और चना आदि।

पढ़ें :- New Zealand PM Jacinda Ardern: न्यूजीलैंड की PM जैसिंडा अर्डर्न ने कैंसिल की अपनी शादी, जानिए ये है वजह
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...