छात्राओं से छेड़छाड़ का दोषी पाये जाने पर स्कूल कोच को 105 साल की सजा

gang rape, गैंगरेप
गाजीपुर: गैंगरेप में दो प्राइमरी छात्र गिरफ्तार

नई दिल्ली। अमेरिका के एक स्कूल कोच को 7 नाबालिग छात्राओं से छेड़छाड़ का दोषी करार दिये जाने के बाद कोर्ट ने उसे 105 साल जेल की अधिकतम सज़ा सुनाई है। लॉस एंजिलिस काउंटी सुपीरियर कोर्ट ने मंगलवार को कैलिफोर्निया के दो जूनियर स्कूल में कोच रहे रोनी ली रोमन (44) को इस अपराध के लिए तय अधिकतम सजा सुनाई। फैसला आने के बाद हर तरफ इसकी सराहना हो रही है।

अदालत ने गत सात जून को रोनी को सात नाबालिग लड़कियों के यौन उत्पीड़न का दोषी करार दिया था। पीड़ित लड़कियों की उम्र आठ से ग्यारह वर्ष थी। सरकारी वकील के अनुसार रोनी वर्ष 2002 से ही इस घृणित कृत्य में लिप्त था।

{ यह भी पढ़ें:- छात्र के शव को भारत भेजने के लिए अमेरिका ने जुटाए 50 हजार डॉलर }

उसने कोरियाटाउन के काहेंगा एलिमेंट्री स्कूल और हॉलीवुड के वाइन एलिमेंट्री स्कूल में कोच रहते ये अपराध किए थे। उसने छह छात्राओं का स्कूल के मैदान पर जबकि एक का उसके घर पर यौन उत्पीड़न किया था।

{ यह भी पढ़ें:- अमेरिका के रेस्टोरेंट में भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या }

नई दिल्ली। अमेरिका के एक स्कूल कोच को 7 नाबालिग छात्राओं से छेड़छाड़ का दोषी करार दिये जाने के बाद कोर्ट ने उसे 105 साल जेल की अधिकतम सज़ा सुनाई है। लॉस एंजिलिस काउंटी सुपीरियर कोर्ट ने मंगलवार को कैलिफोर्निया के दो जूनियर स्कूल में कोच रहे रोनी ली रोमन (44) को इस अपराध के लिए तय अधिकतम सजा सुनाई। फैसला आने के बाद हर तरफ इसकी सराहना हो रही है। अदालत ने गत सात जून को रोनी को सात…
Loading...