प्रदूषण-रहित देश: वो जगह जहां मिलती है दुनिया की सबसे शुद्ध हवा

प्रदूषण-रहित देश: दुनिया की वो पहली जगह जहां मिलती है सबसे शुद्ध हवा
प्रदूषण-रहित देश: दुनिया की वो पहली जगह जहां मिलती है सबसे शुद्ध हवा

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली की हवा की गुणवत्ता बेहद खराब होती जा रही है। वैसे सिर्फ दिल्ली ही नहीं वहां के आस पास के इलाकों में भी वायु प्रदूषण की भारी समस्या देखने को मिल रही है। वायु प्रदूषण के नजरिए से देखें तो दुनिया के सबसे अधिक प्रदूषित 20 शहरों में से 10 शहर भारत के ही हैं। खराब वायु के चलते कई लोग अस्थमा, सीओपीडी (क्रॉनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पल्मोनरी डिसीज़), लंग कैंसर और दिल की परेशानी जैसी गंभीर बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे देश के बारे में बताएंगे जहां दुनिया की सबसे शुद्ध हवा मिलती है और वहां वायु प्रदूषण का दूर दूर से कोई नाता नहीं है।

Worlds Cleanest Air Country 2018 Is Finland :

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइज़ेशन (WHO) की तरफ से सबसे स्वच्छ हवा वाला देश फिनलैंड को बताया गया है। यानी इस पृथ्वी पर इससे शुद्ध हवा यूरोपीय देशों में आने वाली फिनलैंड में ही मिलती है। वहां वायु प्रदूषण का दूर दूर तक कोई नामों निशान नहीं होता। यही वजह है इस देश में साफ-सफाई और गाड़ियों की बेहतर कंडीशन है इसके साथ ही पॉल्यूशन की वजह से होने वाली बीमारी का भी कोई खतरा नहीं है।

देखें सबसे शुद्ध शहर वाले देश की तस्वीरें

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली की हवा की गुणवत्ता बेहद खराब होती जा रही है। वैसे सिर्फ दिल्ली ही नहीं वहां के आस पास के इलाकों में भी वायु प्रदूषण की भारी समस्या देखने को मिल रही है। वायु प्रदूषण के नजरिए से देखें तो दुनिया के सबसे अधिक प्रदूषित 20 शहरों में से 10 शहर भारत के ही हैं। खराब वायु के चलते कई लोग अस्थमा, सीओपीडी (क्रॉनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पल्मोनरी डिसीज़), लंग कैंसर और दिल की परेशानी जैसी गंभीर बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे देश के बारे में बताएंगे जहां दुनिया की सबसे शुद्ध हवा मिलती है और वहां वायु प्रदूषण का दूर दूर से कोई नाता नहीं है।वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइज़ेशन (WHO) की तरफ से सबसे स्वच्छ हवा वाला देश फिनलैंड को बताया गया है। यानी इस पृथ्वी पर इससे शुद्ध हवा यूरोपीय देशों में आने वाली फिनलैंड में ही मिलती है। वहां वायु प्रदूषण का दूर दूर तक कोई नामों निशान नहीं होता। यही वजह है इस देश में साफ-सफाई और गाड़ियों की बेहतर कंडीशन है इसके साथ ही पॉल्यूशन की वजह से होने वाली बीमारी का भी कोई खतरा नहीं है।देखें सबसे शुद्ध शहर वाले देश की तस्वीरें