1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. Wrestlers Protest : पहलवानों में समर्थन में मनोहर लाल खट्टर,बोले- यह मामला गंभीर, इससे टूटता है खिलाड़ियों का मनोबल

Wrestlers Protest : पहलवानों में समर्थन में मनोहर लाल खट्टर,बोले- यह मामला गंभीर, इससे टूटता है खिलाड़ियों का मनोबल

भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष (President of Wrestling Federation of India) और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह (BJP MP Brij Bhushan Sharan Singh) के खिलाफ धरना दे रहे पहलवानों के समर्थन में अब हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Haryana Chief Minister Manohar Lal Khattar) भी आ गए हैं। खट्टर ने कहा कि यह गंभीर विषय है। उन्होंने कहा कि इस तरह के मामलों से खिलाड़ियों का मनोबल टूटता है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष (President of Wrestling Federation of India) और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह (BJP MP Brij Bhushan Sharan Singh) के खिलाफ धरना दे रहे पहलवानों के समर्थन में अब हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Haryana Chief Minister Manohar Lal Khattar) भी आ गए हैं। खट्टर ने कहा कि यह गंभीर विषय है। उन्होंने कहा कि इस तरह के मामलों से खिलाड़ियों का मनोबल टूटता है। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों की सुरक्षा काफी महत्वपूर्ण मुद्दा है।

पढ़ें :- Wrestlers Protest : खेल मंत्रालय का बड़ा एक्शन, कुश्ती संघ के अतिरिक्त सचिव को किया सस्पेंड

खट्टर (Khattar) ने कहा कि इस पर हरियाणा की सरकार की ओर से विशेष ध्यान दिया जाएगा। बता दें कि दरअसल, बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट, साक्षी मलिक समेत देश के करीब 30 बड़े पहलवानों ने बुधवार को जंतर मंतर पर भारतीय कुश्ती महासंघ (Wrestling Federation of India) के खिलाफ प्रदर्शन किया। इसके बाद एथलीट्स धरने पर बैठ गए। जंतर मंतर पर प्रदर्शन कर रहे पहलवानों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कुश्ती महासंघ (President of Wrestling Federation of India) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह (Brij Bhushan Sharan Singh)और कुछ कोच पर महिला रेसलर्स के यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए। साथ ही महासंघ के कामकाज पर भी सवाल उठाए। पहलवानों ने आरोप लगाया कि कुश्ती महासंघ नए नए नियम बनाकर खिलाड़ियों का उत्पीड़न करता है।

खिलाड़ियों का मनोबल नहीं टूटने देंगे: मनोहर लाल खट्टर

हरियाणा सीएम मनोहर लाल खट्टर (Haryana Chief Minister Manohar Lal Khattar)  ने कहा, इस मामले को गंभीरता से लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस मामले में हमारे पास इस प्रकार की कोई शिकायत नहीं आई है। कल से जब प्रदर्शन शुरू हुआ है तब से जानकारी मिली है। अगर हमारे पास कोई विषय आएगा तब हम उस पर संज्ञान लेंगे। हम खेल विभाग में खिलाड़ियों की सुरक्षा पर विचार कर जो भी आवश्यकता होगी वह पूरा करेंगे। उन्होंने कहा, केंद्रीय खेल मंत्रालय ने नोटिस लिया है और WFI को 72 घंटे में जवाब देने के लिए कहा है। सारी बातें गंभीरता से ली गई हैं। मुझे भरोसा है कि भारत सरकार इस पर संज्ञान लेगी। यह गंभीर विषय है और इससे खिलाड़ियां का मनोबल टूटता है। हम खिलाड़ियों का मनोबल नहीं टूटने देंगे।

 

पढ़ें :- Wrestlers Protest:  दिल्ली में चल रहा पहलवानों का धरना प्रदर्शन खत्म, जांच पूरी होने तक पद से हटेंगे बृजभूषण शरण सिंह

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...