50 लाख रूपये कीमत की पेन से लिखता था यह रिटायर IAS, छापेमारी करने वाले अफसर भी रह गये हैरान

pen
50 लाख रूपये कीमत की पेन से लिखता था यह रिटायर आईएएस, छापेमारी करने वाले अफसर भी रह गये हैरान

लखनऊ। बसपा शासनकाल में मायावती के प्रमुख सचिव रहे पूर्व आईएएस नेतराम पेन के बहुत शौकीन थे। आयकर की छापेमारी में उनके पास से 50 लाख रूपये कीमती के ‘मो ब्लां पेन’ मिला है। छापेमारी के दौरान मिले इस पेन की कीमत जानकार आयकर के अफसर भी हैरान हो गये। वहीं छापेमारी के दौरान इनके पास से 200 करोड़ रूपये से ज्यादा की सम्पत्ति मिली है।

Written By A Pen Of Rs 50 Lakh It Was Retired Ias The Raiding Officer Was Also Surprised :

इनके अलग—अलग ठीकानों पर हुई छापेमारी में आयकर को करोड़ों रूपये की नकदी भी मिली है। रिटायर आईएएस नेतराम के पास से बरामद 50 लाख रूपये कीमत के मो ब्लां पेन जर्मनी की एक कंपनी बनाती है। यह कंपनी बेशकीमती लेखन उपकरण, महंगी घड़ियां, कीमती आभूषण, आईवियर और बेहद लक्जरी चमड़े के सामान बनाने के लिए मशहूर है।

रिटायर आईएएस के घर छापेमारी में उनकी 30 मुखौटा कम्पनियों का खुलासा हुआ। इसके साथ ही नेतराम और उनके करीबियों के हवाला लिंक भी सामने आए हैं। सूत्रों की माने तो नेतराम इस बार बसपा पार्टी से लोकसभा चुनाव की तैयारी कर रहे थे। बरामद रूपये चुनाव के समय खर्च होने के लिए रखे गये थे।

इसके साथ ही उनके मुखौटा कंपनियों के बारे में आयकर की टीम जांच पड़ताल कर रही है। आयकर विभाग के सूत्रों की माने तो नेतराम ने 95 करोड़ रुपये की फर्जी शेयर कैपिटल के जरिये छह प्रॉपर्टी खरीदी जिनमें से एक दिल्ली की लुटियंस जोन में केजी मार्ग और दूसरी दक्षिण दिल्ली के पॉश इलाके जीके-1 में स्थित है। उनकी एक संपत्ति मुंबई और तीन कोलकाता में हैं।

इसके अलावा 225 करोड़ रुपये की अतिरिक्त प्रॉपर्टी से संबंधित दस्तावेज भी मिले हैं, जिसकी जांच पड़ताल की जा रही है। आयकर सूत्रों की माने तो नेतराम की 30 मुखौटा कंपनियों में उनके करीबी लोग ही डायरेक्टर समेत अन्य पदों पर थे, जिसके जरिए वह काले धन को सफेद करने का काम करते थे।

आयकर की टीम इस मामले में नेतराम के करीबी और रिश्तेदारों से भी पूछताछ कर जांच पड़ताल कर रही है। सूत्रों की माने तो नेतराम इन कंपनियों के जरिए कालेधन को सफेद करने का भी काम करते थे। आयकर सूत्रों की माने तो इनक अलग—अलग मकानों में छापेमारी की गयी, जिसके बाद करोड़ रूपये की नकदी बरामद हुई है।

लखनऊ। बसपा शासनकाल में मायावती के प्रमुख सचिव रहे पूर्व आईएएस नेतराम पेन के बहुत शौकीन थे। आयकर की छापेमारी में उनके पास से 50 लाख रूपये कीमती के 'मो ब्लां पेन' मिला है। छापेमारी के दौरान मिले इस पेन की कीमत जानकार आयकर के अफसर भी हैरान हो गये। वहीं छापेमारी के दौरान इनके पास से 200 करोड़ रूपये से ज्यादा की सम्पत्ति मिली है।

इनके अलग—अलग ठीकानों पर हुई छापेमारी में आयकर को करोड़ों रूपये की नकदी भी मिली है। रिटायर आईएएस नेतराम के पास से बरामद 50 लाख रूपये कीमत के मो ब्लां पेन जर्मनी की एक कंपनी बनाती है। यह कंपनी बेशकीमती लेखन उपकरण, महंगी घड़ियां, कीमती आभूषण, आईवियर और बेहद लक्जरी चमड़े के सामान बनाने के लिए मशहूर है।

रिटायर आईएएस के घर छापेमारी में उनकी 30 मुखौटा कम्पनियों का खुलासा हुआ। इसके साथ ही नेतराम और उनके करीबियों के हवाला लिंक भी सामने आए हैं। सूत्रों की माने तो नेतराम इस बार बसपा पार्टी से लोकसभा चुनाव की तैयारी कर रहे थे। बरामद रूपये चुनाव के समय खर्च होने के लिए रखे गये थे।

इसके साथ ही उनके मुखौटा कंपनियों के बारे में आयकर की टीम जांच पड़ताल कर रही है। आयकर विभाग के सूत्रों की माने तो नेतराम ने 95 करोड़ रुपये की फर्जी शेयर कैपिटल के जरिये छह प्रॉपर्टी खरीदी जिनमें से एक दिल्ली की लुटियंस जोन में केजी मार्ग और दूसरी दक्षिण दिल्ली के पॉश इलाके जीके-1 में स्थित है। उनकी एक संपत्ति मुंबई और तीन कोलकाता में हैं।

इसके अलावा 225 करोड़ रुपये की अतिरिक्त प्रॉपर्टी से संबंधित दस्तावेज भी मिले हैं, जिसकी जांच पड़ताल की जा रही है। आयकर सूत्रों की माने तो नेतराम की 30 मुखौटा कंपनियों में उनके करीबी लोग ही डायरेक्टर समेत अन्य पदों पर थे, जिसके जरिए वह काले धन को सफेद करने का काम करते थे।

आयकर की टीम इस मामले में नेतराम के करीबी और रिश्तेदारों से भी पूछताछ कर जांच पड़ताल कर रही है। सूत्रों की माने तो नेतराम इन कंपनियों के जरिए कालेधन को सफेद करने का भी काम करते थे। आयकर सूत्रों की माने तो इनक अलग—अलग मकानों में छापेमारी की गयी, जिसके बाद करोड़ रूपये की नकदी बरामद हुई है।