1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Yes Bank fraud case: विनोद गोयनका और शाहिद बलवा के ठीकानों पर सीबीआई का छापा, मुंबई-पुणे में आठ ठीकानों पर की छापेमारी

Yes Bank fraud case: विनोद गोयनका और शाहिद बलवा के ठीकानों पर सीबीआई का छापा, मुंबई-पुणे में आठ ठीकानों पर की छापेमारी

यस बैंक धोखाधड़ी मामले में शनिवार को CBI ने बड़ी कार्रवाई की है। शनिवार को सीबीआई (CBI) टीम ने इस मामले में संबंद्ध आठ ठिकानों और कार्यालयों पर छापेमारी की है। बताया जा रहा है कि छापेमारी के दौरान सीबीआई (CBI) को कई अहम दस्तावेज मिले हैं। इसके आधार पर वो घोटाले से जुड़े आगे की जांच करेगी।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Yes Bank fraud case: यस बैंक धोखाधड़ी मामले में शनिवार को CBI ने बड़ी कार्रवाई की है। शनिवार को सीबीआई (CBI) टीम ने इस मामले में संबंद्ध आठ ठिकानों और कार्यालयों पर छापेमारी की है। बताया जा रहा है कि छापेमारी के दौरान सीबीआई (CBI) को कई अहम दस्तावेज मिले हैं। इसके आधार पर वो घोटाले से जुड़े आगे की जांच करेगी।

पढ़ें :- Peshawar Blast : पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने स्वीकारा- आतंकवाद के बीज हमने ही बोए

बता दें कि, हाल में ही सीबीआई (CBI) ने इस मामले से जुड़े बिल्डर संजय छाबड़िया को भी गिरफ्तार किया था। बता दें कि, छाबड़िया की​ गिरफ्तारी के बाद से सीबीआई की अलग-अलग टीमों ने ये कार्रवाई की है। जहां एक ओर पुणे में बिल्डर विनोद गोयनका के ठिकानों पर छापा मारा गया है, तो दूसरी ओर मुंबई में केंद्रीय जांच एजेंसी के अधिकारियों ने शाहिद बलवा और अविनाश भोसले के आवास और कार्यालयों पर तलाशी अभियान चलाया है।

सूत्रों की माने तो संजय छाबड़िया की गिरफ्तारी के बाद से CBI ने कार्रवाई तेज कर दी है। गौरतलब है कि, सीबीआई की प्राथमिकी के अनुसार, घोटाला अप्रैल और जून 2018 के बीच शुरू हुआ, जब यस बैंक ने डीएचएफएल के अल्पकालिक डिबेंचर में 3,700 करोड़ रुपये का निवेश किया। बदले में वधावन ने कपूर और उनके परिवार के सदस्यों को डीओआईटी (DoIT) अर्बन वेंचर्स (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड को ऋण के रूप में 600 करोड़ रुपये का भुगतान किया।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...