1. हिन्दी समाचार
  2. कल हुआ था MSME के लिए आर्थिक पैकेज का ऐलान, योगी सरकार ने आज ही दिया 2002 करोड़ का लोन

कल हुआ था MSME के लिए आर्थिक पैकेज का ऐलान, योगी सरकार ने आज ही दिया 2002 करोड़ का लोन

Yesterday An Announcement Of An Economic Package Was Announced For Msme Yogi Government Today Gave 2002 Crore Loan

लखनऊ। ​पीएम मोदी ने दो दिन पहले 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया था जिसके बाद कल वित्त मंत्री ने उसकी विस्त्रत जानकारी दी थी। केंद्र सरकार द्वारा सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग (MSME) के लिए आर्थिक पैकेज के 24 घंटे के अंदर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी में MSME सेक्टर के 56 हजार 754 उधमियों को एकमुश्त 2002 करोड़ के लोन बांटे हैं. सीएम ने इससे दो से ढाई लाख लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद जताई है. दरअसल योगी सरकार की तरफ से एमएसएमई सेक्टर को मजबूत करने की तैयारी पहले ही कर ली गई थी. इसके साथ ही यूपी केंद्र से आर्थिक पैकेज एलान के तत्काल बाद लॉकडाउन अवधि में भी इतनी बड़ी धनराशि का लोन देने वाला पहला राज्य बन गया है.

पढ़ें :- बंगालः नारेबाजी से नाराज हुईं ममता बनर्जी, कहा-किसी को बुलाकर बेइज्जत करना ठीक नहीं

गुरुवार को एक क्लिक पर सीएम योगी ने ऑनलाइन 2002 करोड़ का लोन जारी किए. इस दौरान कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह मौजूद रहे. इसके साथ ही सीएम ने रोजगार संगम आनलाइन मेला की शुरूआत भी की. इस पूरी प्रक्रिया में सरकार ने एक टेबल पर उद्यमियों और बैंकर्स को बैठाकर ये लोन जरी किया. इन 56 हजार 754 इकाईयों से 2 लाख लोगों को रोजगार की गारंटी मिली है. इस दौरान सीएम ने एमएसएमई का साथी पोर्टल भी लांच किया.

पढ़ें :- हमारे नेताजी भारत के पराक्रम की प्रतिमूर्ति भी हैं और प्रेरणा भी : पीएम मोदी

सीएम योगी ने कहा कि हम कामगारों व श्रमिकों को यूपी की ताकत बनाएंगे. ये हमारे लिए पलायन का कलंक हटाने का भी बड़ा अवसर है, इसलिए हम कामगारों व श्रमिकों की घर वापसी सुनिश्चित कराने के साथ ही उनकी स्किलिंग की स्केलिंग भी कर रहे हैं.

सीएम ने कहा कि हमारी कोशिश है अब दीपावली में चीन से गौरी गणेश की मूर्तियां न आएं. गोरखपुर के टेराकोटा में चीन से बेहतर मूर्तियां बनाने का हुनर है. देश का सबसे बड़ा MSME सेक्टर यूपी में है. उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के दौरान ही यूपी में पीपीई किट की 26 यूनिटें खड़ी हुई हैं. यूपी में छोटी बड़ी मिलाकर 90 लाख एमएसएमई इकाईयां हैं. हर इकाई में कम से कम एक नया रोजगार सृजित करने की हमारी कोशिश है. एक जिला एक उत्पाद पर विशेष फोकस है, इस मुहिम से जुड़ने वाले उद्यमियों को प्रोत्साहन देने की कोशिश की जा रही है.

इसके साथ ही सीएम योगी ने महाअभियान भी शुरू किया है. इसके तहत UP आइए, उद्योग लगाइए और 1000 दिनों की समयावधि के भीतर आखिरी सौ दिनों में आवेदन कर तय NOC पाइए का मंत्र दिया गया है. इसमें पर्यावरण नियमों को छोड़ बाकी नियमों का सरलीकरण किया गया है. उद्यमियो के लिए सिंगल विंडो सिस्टम के जरिए हर हाथ को रोजगार देने का ये महाअभियान है.

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...