1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. भुजंगासन को बनाएं आदत, सेहत को होगा फायदा

भुजंगासन को बनाएं आदत, सेहत को होगा फायदा

By आस्था सिंह 
Updated Date

लखनऊ। अगर आप भी स्वस्थ रहना चाहते हैं तो ये खबर आपके काम की हो सकती है। आज के इस भाग–दौड़ भरी दुनिया मे बीमारियो से दूर रहना काफी मुश्किल हो गया है लेकिन अगर आप नियमित रूप से योग करते हैं तो आप बीमारियो से दूर रह सकते सकते है। योग आपको ना ही सिर्फ बीमारियो से दूर रखेगा बल्कि आपको ऊर्जा भी प्रदान करेगा। योग के कई आसनो मे से एक भुजंगासन है।

भुजंगासन शब्द संस्कृत के दो शब्दो से मिलकर बना है भुजंग जिसका अर्थ होता है सर्प और आसन जिसका अर्थ है स्थिति। इस आसन को करने से रीढ़ की हड्डी सर्प की तरह लचीली हो जाती है और शरीर मे गर्मी उत्पन्न करती है इसलिए इस आसन को भुजंगासन कहते है। ये आसन पेट के बल लेट के किया जाता है। ये आसन शरीर को सुडौल बनाता है।

कैसे करे भुजंगासन….

  • शुद्ध वातावरण और समतल जमीन पर आसन बिछाकर पेट के बल लेट जाएं।
  • सांस सामान्य रहे और शरीर की मांसपेशियों के शिथिल होने तक इस स्थिति में लेटें।
  • माथे को जमीन पर और हाथों को कंधों के पास इस तरह से टिकाएं कि कोहनियां पीछे की तरफ शरीर के पास आ जाएं।
  • टांगों और पैरों को सीधा रखते हुए आपस में मिला लें।
  • धीरे-धीरे सांस भरें और हाथों को जमीन पर अच्छी तरह से टिकाते हुए कंधों के सहारे नाभि तक के हिस्से को इस प्रकार ऊपर की तरफ उठाएं कि छाती सामने की ओर आ जाए।
  • गर्दन को पीछे की तरफ करते हुए ऊपर आकाश की ओर देखने का प्रयास करें।
  • इस स्थिति में यथाशक्ति रुकने के बाद सांस छोड़ते हुए धीरे-धीरे पूर्व स्थिति में लौट आएं।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...