1. हिन्दी समाचार
  2. कानून न मानने वाले अल्पसंख्यकों में योगी आदित्यनाथ का खौफ, देखिए वायरल हो रहा यह वीडियो!

कानून न मानने वाले अल्पसंख्यकों में योगी आदित्यनाथ का खौफ, देखिए वायरल हो रहा यह वीडियो!

Yogi Adityanath Is In Awe Of Non Law Minorities Watch This Video Going Viral

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्य्मंत्री योगी आदित्यनाथ का खौफ कानून न मानने वालों में इस कदर फैला हुआ है कि पाकिस्तान तक दहशत में है. सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो तेजी के साथ वायरल हो रहा है जिसमें न्यूज़ ऐंकर यह साफ़ कहता दिख रहा है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी ज्यादा खतरनाक हैं.

पढ़ें :- Varun-Natasha की शादी में पहुंचे पंडित जी, 2:30 बजे होंगे फेरे...

गौरतलब है कि देश में पिछले कुछ दिनों से कोरोना वायरस के मामले बहुत तेजी से बढ़े हैं। नए मामलों में सबसे बड़ी तादाद तबलीगी जमात के मुख्यालय निजामुद्दीन मरकज में पिछले महीने हुए जलसे में शामिल हुए लोगों की है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पिछले 2 दिनों में ही तबलीगी जमात से जुड़े 647 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि को चुकी है। ये केस देश के 14 राज्यों में सामने आए आए हैं। पिछले 2-3 दिनों से देश में कोरोना के जितने नए केस सामने आ रहे हैं, उनमें आधे से ज्यादा मामले मरकज से जुड़े हुए हैं।

65% नए केस तबलीगी जमात से जुड़े गुरुवार को रात पौने 12 बजे तक देशभर में कोरोना वायरस के कुल 485 नए मामलों की पुष्टि हुई थी। इनमें से कम से कम 295 केस उन लोगों के थे, जिन्होंने निजामुद्दीन मरकज में हुए जलसे में शिरकत की थी। यानी करीब 65 प्रतिशत नए केसों का स्रोत तबलीगी जमात का जलसा है।देश में कहां कितने कोरोना मरीज, पूरी लिस्टगुरुवार तक दिल्ली में कुल 293 केस थे जिनमें से अकेले मरकज से जुड़े मामले 182 थे।

पिछले 24 घंटे में सिर्फ दिल्ली में मरकज से जुड़े 3 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में कोरोना से अब तक 56 लोगों की मौत हो चुकी है, इनमें से कम से कम 20 मौतें तबलीगी जमात से जुड़े लोगों की हुई है।जमातियों पर योगी सख्त, बोले- कानून सिखा देंगेकोरोना से जंग में देश को कई दिन पीछे ढकेलाभारत में कोरोना वायरस के आंकड़ों में इस तेजी के लिए बहुत हद तक तबलीगी जमात की लापरवाही जिम्मेदार है।

निजामुद्दीन मरकज का मामला जैसे ही खुला, कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ने लगे। मध्य मार्च में मरकज में हुए मजहबी जलसे में देश-विदेश से करीब 8 से 9 हजार लोग शामिल हुए थे। जमात की लापरवाही कितनी भारी पड़ी है, इसका अंदाजा आप भारत में कोरोना वायरस केसों के ट्रेंड से लगा सकते हैं।

पढ़ें :- भाजपा नेता ने ममता बनर्जी को भेजी रामायण की पुस्तक, कहा-पढ़िए, आपको सद्बुद्धि आएगी

फिलहाल आप देखिए वायरल हो रहा यह वीडियो-

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...