योगी का हमला राहुल और प्रियंका इटली में जाकर मांगे वोट

a

लखनऊ। लोकसभा चुनाव 2019 अपने अंतिम दौर में है। 19 मई को चुनाव के सातवें और आखिरी चरण में 8 राज्यों की 59 सीटों पर मतदान होना है। इस दौरान राजनीतिक दलों के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है और आरोप प्रत्यारोप का दौर भी सर्वोच्च शिखर पर पहुंच गया है।

Yogi Adityanath Says Rahul Gandhi And Priyanka Gandhi Vadra Ask For Votes In Italy :

इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि जब भी देश में संकट होता है वह इटली चले जाते हैं। योगी ने एक चुनावी रैली में कहा जब- जब देश में संकट आता है राहुल इटली चले जाते हैं। अगर कांग्रेस की शहजादी प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल को देश की जनता से कुछ लेना देना नहीं है तो उन्हें इटली चले जाना चाहिए और वहां वोट मांगना चाहिए।

योगी ने आगामी 19 मई को अंतिम चरण के मतदान से पहले ताबड़तोड़ रैलियां कीं। उन्होंने जनता से भाजपा प्रत्याशियों को वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि बसपा सुप्रीमो मायावती, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ तभी मंच साझा कर पा रही हैं जब हमने राज्य में सुरक्षित माहौल तैयार किया है।

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए योगी ने कहा कि राहुल के मामा क्रिश्चियन मिशेल शकुनि मामा हैं। वह इटली के हैं और अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर मामले में दलाल थे। योगी ने कहा कि भारत देश उनके पक्ष में कभी मतदान नहीं करेगा जो भगवान राम और कृष्ण को नहीं मानते। विपक्ष आतंकवादियों के प्रति अधिक निष्ठावान है। योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार में वर्ष 1947 से चली आ रही परिपाटी को बदल दिया है।

पहली बार ऐसा हुआ है कि आतंकवादी मसूद अजहर के मुद्दे पर पाकिस्तान अलग-थलग पड़ गया और पूरी दुनिया भारत के साथ खड़ी रही। इससे पहले भारत के साथ केवल रूस ही नजर आता था।

योगी ने कांग्रेस, सपा और बसपा पर हमला करते हुए आरोप लगाया कि इनकी सहानुभूति आम जनता के साथ न होकर आतंकवादियों के साथ है। उन्होंने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश की पिछली सपा और बसपा सरकारों के जमाने में बिजली से जनता को इसलिए वंचित रखा जाता था क्योंकि रात के अंधेरे में प्रदेश के संसाधनों पर डाका डाला जाता था।

लखनऊ। लोकसभा चुनाव 2019 अपने अंतिम दौर में है। 19 मई को चुनाव के सातवें और आखिरी चरण में 8 राज्यों की 59 सीटों पर मतदान होना है। इस दौरान राजनीतिक दलों के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है और आरोप प्रत्यारोप का दौर भी सर्वोच्च शिखर पर पहुंच गया है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि जब भी देश में संकट होता है वह इटली चले जाते हैं। योगी ने एक चुनावी रैली में कहा जब- जब देश में संकट आता है राहुल इटली चले जाते हैं। अगर कांग्रेस की शहजादी प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल को देश की जनता से कुछ लेना देना नहीं है तो उन्हें इटली चले जाना चाहिए और वहां वोट मांगना चाहिए। योगी ने आगामी 19 मई को अंतिम चरण के मतदान से पहले ताबड़तोड़ रैलियां कीं। उन्होंने जनता से भाजपा प्रत्याशियों को वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि बसपा सुप्रीमो मायावती, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ तभी मंच साझा कर पा रही हैं जब हमने राज्य में सुरक्षित माहौल तैयार किया है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए योगी ने कहा कि राहुल के मामा क्रिश्चियन मिशेल शकुनि मामा हैं। वह इटली के हैं और अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर मामले में दलाल थे। योगी ने कहा कि भारत देश उनके पक्ष में कभी मतदान नहीं करेगा जो भगवान राम और कृष्ण को नहीं मानते। विपक्ष आतंकवादियों के प्रति अधिक निष्ठावान है। योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार में वर्ष 1947 से चली आ रही परिपाटी को बदल दिया है। पहली बार ऐसा हुआ है कि आतंकवादी मसूद अजहर के मुद्दे पर पाकिस्तान अलग-थलग पड़ गया और पूरी दुनिया भारत के साथ खड़ी रही। इससे पहले भारत के साथ केवल रूस ही नजर आता था। योगी ने कांग्रेस, सपा और बसपा पर हमला करते हुए आरोप लगाया कि इनकी सहानुभूति आम जनता के साथ न होकर आतंकवादियों के साथ है। उन्होंने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश की पिछली सपा और बसपा सरकारों के जमाने में बिजली से जनता को इसलिए वंचित रखा जाता था क्योंकि रात के अंधेरे में प्रदेश के संसाधनों पर डाका डाला जाता था।