1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. आयुष्मान भारत योजना का दायरा बढ़ाने के प्रस्ताव पर योगी सरकार राजी

आयुष्मान भारत योजना का दायरा बढ़ाने के प्रस्ताव पर योगी सरकार राजी

By आराधना शर्मा 
Updated Date

लखनऊ:  आयुष्मान भारत योजना में अब प्रदेश के लगभग दो करोड़ परिवार और कवर होंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसपर अपनी सहमति दे दी है। अपर मुख्य सचिव-स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि बीते सोमवार को आयुष्मान भारत के मुख्य कार्यपालक अधिकारी मुख्यमंत्री से मिले थे और उन्होंने प्रस्ताव रखा था कि केन्द्र सरकार इस योजना का दायरा बढ़ाने की मंशा रखती है। केन्द्र सरकार इस योजना को राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एन0एफ0एस0ए) के तहत लाना चाहती है। इस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को अपनी सहमति दे दी।

पढ़ें :- ओपी राजभर का निशाना, कहा-अखिलेश नहीं चाहते थे शिवपाल उनके साथ आएं 

अमित मोहन ने बताया कि अभी तक सूबे के 1.18 करोड़ परिवार इस योजना में कवर हैं। वर्तमान में आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत लाभार्थी का चयन सामाजिक, आर्थिक, जातीय जनगणना-2011 के आधार पर किया गया है। चयन के इस आधार पर प्रदेश के 90 लाख परिवार आयुष्मान भारत योजना के लिए पात्र हैं। तकरीबन 28 लाख परिवारों को ढूंढा नहीं जा सका है।

उन्होंने बताया कि एन0एफ0एस0ए के तहत प्रदेश में 3.58 करोड़ परिवार पंजीकृत हैं। योजना का दायरा बढ़ने पर बाकी 2.4 करोड़ परिवार भी इस योजना का लाभ उठा सकेंगे। सभी को पांच लाख के स्वास्थ्य बीमा से कवर किया जाएगा। अपर मुख्य सचिव ने कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा कि जैसे ही केन्द्र सरकार इस योजना का दायरा बढ़ाती है, प्रदेश सरकार उसका पालन करेगी और अतिरिक्त व्यय को वहन करेगी

एनएफएसए को आयुष्मान भारत योजना के चयन का आधार बनाए जाने पर अन्त्योदय योजना, पात्र गृहस्थी योजना आदि के लाभार्थी भी आयुष्मान भारत योजना के पात्र लाभार्थी हो जाएंगे। इससे प्रदेश में आयुष्मान भारत योजना के तहत पात्र लाभार्थी परिवारों की संख्या बढ़कर 3.58 करोड़ पहुंच जाएगी और योजना से लगभग 14 करोड़ लाभार्थी लाभ उठा सकेंगे।

पढ़ें :- देश के इन हिस्सो में बारिश के कारण  आ गया है भूचाल, मौसम विभाग ने जारी किया ऐलो अलर्ट
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...