1. हिन्दी समाचार
  2. योगी सरकार ने पेश किया वित्त वर्ष 2019-20 का 13594 करोड़ रुपये का अनुपूरक बजट

योगी सरकार ने पेश किया वित्त वर्ष 2019-20 का 13594 करोड़ रुपये का अनुपूरक बजट

Yogi Government Introduced Supplementary Budget

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। योगी सरकार ने मंगलवार को वित्त वर्ष 2019-20 का पलहा अनुपूरक बजट ​पेश किया। अनुपूरक बजट का आकार 13,594 करोड़ रुपये है, जिसमें राजस्व लेखा का व्यय आठ हजार 381 करोड़ रुपये और पूंजी लेखे का व्यय 5,213 करोड़ रुपये अनुमानित है। बजट में इंफ्रास्ट्रक्चर विकास, स्मार्ट सिटी, शिक्षा एवं स्वास्थ्य, कर्मचारी कल्याण और धार्मिक एजेंडे पर पूरा फोकस रहा है। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार का यह तीसरा बजट है। यह अनुपूरक बजट वि​त्तीय वर्ष 2019-20 के लिए पेश किया गया है।

पढ़ें :- नई नवेली दुल्हन नेहा कक्कड़ का सोशल मीडिया पर ऐलान, इंस्टा पर बदला...

यह अनुपूरक बजट वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने विधानसभा में पेश किया। पिछले दो अनुपूरक बजट से यह यह बजट बड़ा है। योगी सरकार ने यह बजट चालू योजनाओं और सरकार की घोषणाओं को ध्यान में रखकर पेश किया गया है। अनुपूरक बजट में एक्सप्रेस-वे परियोजनाओं के लिए संसाधन जुटाने का इंतजाम किया गया है। योगी सरकार पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के निर्माण में तेजी लाना चाहती है। इसलिए गोरखपुर एक्सप्रेस वे के लिए कर्ज पर ब्याज के मद में 12 करोड़ 70 लाख रुपये की व्यवस्था की गई है।

इसी प्रकार बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के लिए कर्ज पर ब्याज के मद में 46 करोड़ 27 लाख रुपये दिये गए हैं। योगी सरकार ने पूर्वांचल एक्सप्रेस—वे और बुंदेलखंड एक्सप्रेस—वे के लिए अतिरिक्त रुपये की व्यवस्था की है। इसमें पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लिए 850 करोड़ और बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के लिए 1150 करोड़ रुपये की अतिरिक्त व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही प्रयागराज से मेरठ के लिए गंगा एक्सप्रेस-वे के डीपीआर के लिए 15 करोड़ रुपये दिये गए हैं।

लोगों के स्वास्थ्य पर ज्यादा ध्यान
योगी सरकार ने अपने अनुपूरक बजट में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार और नए मेडिकल कॉलेजों के लिए भी रुपये की व्यवस्था की है। अयोध्या, शाहजहांपुर और फीरोजाबाद जिला चिकित्सालय को उच्चीकृत कर मेडिकल कॉलेज के स्थापना के लिए पांच-पांच करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है। बलरामपुर में केजीएमयू के सेटेलाइट सेंटर में 300 बेड के अस्पताल के निर्माण के लिए 35 करोड़ रुपये और व्यवस्था की गई है।

पर्यटन को बढ़ावा
– अयोध्या में दीपोत्सव के आयोजन के लिए 6 करोड़ रुपये का प्रावधान।
– प्रदेश में पर्यटन सूचना एवं प्रचार के लिए 5 करोड़ रुपये का प्रावधान।
– मिर्जापुर में विन्ध्यवासिनी देवी धाम के पर्यटन विकास के लिए 10 करोड़ का प्रावधान।
– सीतापुर स्थित नैमिषारण्य के पर्यटन विकास के लिए 10 करोड़ का प्रावधान।
– प्रदेश में विभिन्न पर्यटन स्थलों के विकास के लिए 10 करोड़ का प्रावधान।
– अयोध्या में भजन संध्या स्थल के निर्माण के लिए चार करोड़ 85 लाख 97 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान।
– कैलाश मानसरोवर यात्रा भवन के लिए एक करोड़ 50 लाख रुपये का आवंटन।

पढ़ें :- सरकारी नौकरी: नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन ने निकाली कई पदों पर भर्ती, अप्लाई करने की ये है लास्ट डेट

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...