1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. अधिवक्ता संरक्षण अधिनियम अविलंब लागू करे योगी सरकार : मुलायम सिंह यादव

अधिवक्ता संरक्षण अधिनियम अविलंब लागू करे योगी सरकार : मुलायम सिंह यादव

अधिवक्ताओं के लिए सामाजिक सुरक्षा , जीवन रक्षा आवश्यक है जिसके न मिलने के कारण प्रदेश में आए दिन अधिवक्ताओं के साथ घटनाएं घट रही है। अधिवक्ता सुरक्षा क़ानून एकजुटता के अभाव में सियासी दांवपेच में फसा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

कानपुर देहात । अधिवक्ताओं के लिए सामाजिक सुरक्षा , जीवन रक्षा आवश्यक है जिसके न मिलने के कारण प्रदेश में आए दिन अधिवक्ताओं के साथ घटनाएं घट रही है। अधिवक्ता सुरक्षा क़ानून एकजुटता के अभाव में सियासी दांवपेच में फसा है।

पढ़ें :- UP Election 2022: राजा भैया ने की मुलायम सिंह यादव से मुलाकात, गठबंधन को लेकर लगाए जाने लगे कयास

यह बात गुरुवार को मुलायम सिंह यादव एडवोकेट पूर्व महामंत्री जिला बार एसोसिएशन कानपुर देहात ने जनपद न्यायालय कानपुर देहात के युवा अधिवक्ता साथी वकार अहमद एडवोकेट के ऊपर पुलिस अधीक्षक कार्यालय के पास जनपद कन्नौज में हुए प्राणघातक हमले से घायल की सूचना पाकर अस्पताल मिलने जाते वक्त कहीं। उन्होंने कहा कि अधिवक्ता देश के आम आवाम को न्याय दिलाने का काम करता है। जिसके कारण उन्हें ज्यादातर समय खूंखार लोगों,असामाजिक तत्व और अपराधियों के खिलाफ मुकदमे दायर करके बहस करनी पड़ती है।

अधिवक्ता अक्सर ऐसे अपराधियों और असामाजिक तत्वों के निशाने पर होता है, जिसकी वजह से आए दिन अधिवक्ताओं तथा उनके परिवार के साथ मारपीट अपहरण की घटनाएं हो रही है। जिसका जीता जागता उदाहरण पुलिस अधीक्षक कार्यालय के पास कन्नौज में पुलिस के सामने दिनदहाड़े बेखौफ होकर घटना को अंजाम देते रहे जिससे अधिवक्ता मरणासन्न अवस्था में पहुंच गया है, जो सबसे सुरक्षित स्थान माना जाता है, जबकि देश को आजाद कराने ,आम जनमानस को न्याय दिलाने वाले अधिवक्ता अपनी मदद के लिए खुद संघर्ष कर रहे हैं। जो बहुत ही चिंताजनक एवं अफसोस की बात है।

उन्होंने सरकार से मांग की अधिवक्ता संरक्षण अधिनियम अविलंब लागू कर दिया जाए, जिससे उनको पर्याप्त सुरक्षा सुनिश्चित हो सके। ताकि वह अपनी व अपने परिवार की सुरक्षा की चिंता किए बगैर निडर होकर अपने कर्तव्य का पालन कर सकें।

पढ़ें :- योगी सरकार ने साधु टीएलवासवानी के जन्म दिन 25 नवम्बर को मांस रहित दिवस किया घोषित , दिया ये निर्देश
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...