1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी में योगी सरकार के विकास संबंधी दावे सिर्फ जुमला : मायावती

यूपी में योगी सरकार के विकास संबंधी दावे सिर्फ जुमला : मायावती

यूपी में योगी सरकार (Yogi Government) के विकास संबंधी दावे सिर्फ जुमला हैं। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ करने वाली और हिन्दू मुस्लिम विवाद (Hindu Muslim controversy) जैसे संकीर्ण मुद्दों पर लौट आयी है। यह हमला गुरुवार को बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने बोला है। सुश्री मायावती (Mayawati)  ने कहा कि रिजर्व बैंक के ताजा आंकड़े इस बात के गवाह हैं कि यूपी में प्रति व्यक्ति आय में सही तरह से इजाफा नहीं हुआ है। जो भाजपा के विकास के दावे की पोल खोलता है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी में योगी सरकार (Yogi Government) के विकास संबंधी दावे सिर्फ जुमला हैं। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ करने वाली और हिन्दू मुस्लिम विवाद (Hindu Muslim controversy) जैसे संकीर्ण मुद्दों पर लौट आयी है। यह हमला गुरुवार को बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने बोला है।

पढ़ें :- UP By-Election 2022 : बसपा ने छोड़ा मैदान, मुकाबला बना रोचक, अब मुस्लिम की चाल पर टिकी जीत-हार

सुश्री मायावती (Mayawati)  ने कहा कि रिजर्व बैंक के ताजा आंकड़े इस बात के गवाह हैं कि यूपी में प्रति व्यक्ति आय में सही तरह से इजाफा नहीं हुआ है। जो भाजपा के विकास के दावे की पोल खोलता है। यही कारण है कि अब यह पार्टी हिन्दू मुस्लिम विवाद (Hindu Muslim controversy) जैसे पुराने संकीर्ण मुद्दों पर वापस आ गयी है, लेकिन इस बार लोग इनके छलावे में नहीं आयेंगे।

पढ़ें :- Mainpuri by-election 2022: मैनपुरी उपचुनाव में BSP की बड़ी कार्रवाई, पांच नेताओं को पार्टी से किया निष्कासित

उन्होंने ट्वीट किया कि यूपी के लोगों की प्रति व्यक्ति आय सही से नहीं बढ़ने अर्थात यहां के करोड़ों लोगों के गरीब व पिछड़े बने रहने सम्बंधी रिजर्व बैंक के ताजा आंकड़े इस आमधारणा को प्रमाणित करते हैं कि भाजपा के विकास के दावे हवा हवाई व जुमलेबाजी हैं। यहां इनकी डबल इंजन’ की सरकार में भी ऐसा क्यों।

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि यूपी चुनाव से पहले यहां भाजपा के विकास के दावों के खोखले होने का पर्दाफाश होने से अब यह पार्टी धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ व हिन्दू-मुस्लिम विवाद (Hindu Muslim controversy) आदि के पुराने संकीर्ण मुद्दे पर वापस आ गई है, लेकिन लोग फिर से इनके छलावे में आने वाले नहीं हैं, जो उनके मूड से भी स्पष्ट है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...