HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. योगी के ‘टेस्ट, ट्रेस एंड ट्रीट’ मॉडल से यूपी का रिकवरी रेट 91.40 फीसदी पहुंचा

योगी के ‘टेस्ट, ट्रेस एंड ट्रीट’ मॉडल से यूपी का रिकवरी रेट 91.40 फीसदी पहुंचा

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण दर में तेजी से गिरावट हो रही है। अब रिकवरी दर बढ़कर अब 91.4 प्रतिशत हो गई है। प्रदेश में 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के कुल 7336 मामले आए हैं। यह संख्या 24 अप्रैल को आए 38055 मामलों से लगभग 30 हजार कम है। पिछले 24 घंटों में 19,669 संक्रमित व्यक्ति उपचार के बाद डिस्चार्ज हुए हैं। इस प्रकार 30 अप्रैल के सापेक्ष वर्तमान में अधिकतम एक्टिव मामलों की संख्या में 69 फीसदी की कमी आई है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण दर में तेजी से गिरावट हो रही है। अब रिकवरी दर बढ़कर अब 91.4 प्रतिशत हो गई है। प्रदेश में 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के कुल 7336 मामले आए हैं। यह संख्या 24 अप्रैल को आए 38055 मामलों से लगभग 30 हजार कम है। पिछले 24 घंटों में 19,669 संक्रमित व्यक्ति उपचार के बाद डिस्चार्ज हुए हैं। इस प्रकार 30 अप्रैल के सापेक्ष वर्तमान में अधिकतम एक्टिव मामलों की संख्या में 69 फीसदी की कमी आई है।

पढ़ें :- अखिलेश यादव से मिले विनित कुशवाहा समेत कई नेता, सदस्यता अभियान और उपचुनाव को लेकर हुई चर्चा

मुख्यमंत्री को बुधवार को कोविड-19 प्रबंधन के लिए गठित टीम-9 के अधिकारियों के साथ बैठक में बताया गया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के एक्टिव मामलों की संख्या 123579 है, जो 30 अप्रैल की अधिकतम एक्टिव मामलों की संख्या 310783 से 1.87 लाख कम है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेशवासियों की स्वास्थ्य सुरक्षित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। प्रदेश में ओवरऑल कोविड पॉजिटिविटी रेट 3.6 फीसदी है, जबकि बीते 24 घंटों में यह दर 2.45 फीसदी रही है। प्रदेश की विशाल जनसंख्या और महामारी की स्थिति को देखते हुए उत्तर प्रदेश की यह स्थिति संतोषप्रद है।

उन्होंने कहा कि अक्रामक जांच नीति यूपी ने शुरुआत से ही अपनाई। बीते 24 घंटों में एक नया रिकॉर्ड बनाते हुए प्रदेश में 2,97,327 जांच हुए। इसमें 2.19 लाख जांच केवल ग्रामीण क्षेत्रों में हुई है। इसमें 1.22 लाख जांच आरटीपीसीआर माध्यम से हुई है। अब तक प्रदेश में 4,55,31,018 टेस्ट हो चुके हैं। गांवों में संचालित टेस्टिंग अभियान के अच्छे परिणाम प्राप्त हो रहे हैं।

सबसे अधिक आबादी वाला राज्य होने के बावजूद उत्तर प्रदेश अन्य की तुलना जैसे दिल्ली, महाराष्ट्र और राजस्थान से कोविड मौतों की संख्या में लगातार गिरावट के साथ महामारी का प्रभावी ढंग से प्रबंधन करने में सक्षम साबित हुआ है। बता दें कि गोवा (18.05 फीसदी), महाराष्ट्र (17.25 फीसदी), दादरा और नगर हवेली-दमन और दीव (13.26फीसदी) चंडीगढ़ (12.04फीसदी ), और केरल (12.04फीसदी) है। इस कम आबादी वाले कई राज्यों की तुलना में उत्तर प्रदेश में बेहतर सुधार दिखा रहा है।

पढ़ें :- UPSC में एक IAS की भर्ती का घपला सरेआम सामने आने के बाद त्यागपत्र देना कोई समाधान नहीं है: अखिलेश यादव
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...