योगी ने रोकी ‘समाजवादी पेंशन योजना’, टूट सकता है अखिलेश का साइकिल ट्रैक

Yogi Scraps Samajwadi Pension Yojana

लखनऊ| यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व सपा सरकार की योजनाओं पर सख्त तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं| समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों ने मंगलवार देर रात मुख्यमंत्री के सामने प्रस्तुतिकरण दिया| इसके बाद योगी ने सपा सरकार द्वारा चलाई जा रही समाजवादी पेंशन योजना को रोककर उसकी जांच करने के निर्देश दिए हैं| सरकार जांच इस बात को लेकर कराएगी कि जिन्हें पेशन मिल रही है, वो इसके असली हकदार हैं या नहीं| इसके अलावा कई जगहों पर अखिलेश सरकार द्वारा बनाए गए साइकिल ट्रैक भी योगी सरकार तोड़ सकती है| बताया गया कि कई जगहों पर साइकिल ट्रैक बनाने से सड़क बहुत संकरी हो गई है| सरकार ने कहा है कि जहां यह ट्रैक सड़क में रुकावट पैदा कर रही है, वहां यह तोड़े जा सकते हैं|




समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित विभिन्न पेंशन योजनाओं वृद्घावस्था, किसान पेंशन योजना, राज्य पेंशन योजना इत्यादि के विषय में जानकारी प्राप्त करते हुए मुख्यमंत्री ने विधवा, दिव्यांगजन और वृद्घावस्था पेंशन के तहत उपलब्ध कराई जा रही 500 रुपये प्रतिमाह की धनराशि को दोगुना करने के संबंध में गहन समीक्षा करने के बाद कैबिनेट में प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश दिए| योगी ने अनुसूचित जाति की लड़कियों की शादी के लिए अनुदान योजना के तहत पात्रता के विषय में जानकारी ली| उन्होंने कहा कि इस योजना को सामूहिक विवाह योजना के रूप में लागू किए जाने की संभावनाओं पर विचार किया जाए|




उन्होंने कहा कि इसका नाम कन्यादान योजना रखा जाए| योगी ने 100 दिन के लिए तय लक्ष्यों को समय पर पूरा करने के निर्देश दिए| उन्होंने कहा कि मौजूद वृद्घाश्रमों की व्यवस्था ठीक की जाए| जहां पर परिवार मौजूद हैं, वहां मां-बाप को पेंशन योजना के तहत लाभान्वित किया जाए, ताकि वे परिवार के साथ ही रह सकें और उन्हें वृद्घाश्रम जाने की जरूरत न पड़े| उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति असहाय हैं, उन्हें वृद्घाश्रम में रखा जाए| उनका सत्यापन भी किया जाए|

लखनऊ| यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व सपा सरकार की योजनाओं पर सख्त तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं| समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों ने मंगलवार देर रात मुख्यमंत्री के सामने प्रस्तुतिकरण दिया| इसके बाद योगी ने सपा सरकार द्वारा चलाई जा रही समाजवादी पेंशन योजना को रोककर उसकी जांच करने के निर्देश दिए हैं| सरकार जांच इस बात को लेकर कराएगी कि जिन्हें पेशन मिल रही है, वो इसके असली हकदार हैं या नहीं| इसके अलावा कई जगहों…