1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. योगी का बुल्डोजर यूपी में माफिया को कर रहा है नेस्तनाबूद : डॉ. दिनेश शर्मा 

योगी का बुल्डोजर यूपी में माफिया को कर रहा है नेस्तनाबूद : डॉ. दिनेश शर्मा 

यूपी के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने सोमवार को जनपद श्रावस्ती के भिनगा विधानसभा में 27 रुपये करोड़ से अधिक लागत की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया। इसके बाद विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि  मोदी योगी सरकारों ने गरीबों के चेहरे पर मुस्कान लाने का काम किया है। उत्तर प्रदेश विकास कार्यों की  दौड़ में देश का अग्रणी प्रदेश बन चुका है।  उत्तर प्रदेश में आज कानून का राज है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

श्रावस्ती। यूपी के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने सोमवार को जनपद श्रावस्ती के भिनगा विधानसभा में 27 रुपये करोड़ से अधिक लागत की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया। इसके बाद विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि  मोदी योगी सरकारों ने गरीबों के चेहरे पर मुस्कान लाने का काम किया है। उत्तर प्रदेश विकास कार्यों की  दौड़ में देश का अग्रणी प्रदेश बन चुका है।  उत्तर प्रदेश में आज कानून का राज है।

पढ़ें :- केशव का अखिलेश पर बड़ा हमला, बोले- परिवार तो संभल नहीं रहा, देख रहे हैं यूपी सम्भालने का सपना

27 करोड़ रुपए से अधिक  की लागत वाले विकास कार्यों का लोकार्पण व शिलान्यास करते हुए उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों के समय में  अपराधियों और माफियाओं के हौंसले इस कदर बुलन्द होते थे कि वे अवैध अस्त्र शस्त्र के साथ अराजक तत्वों को लेकर खुलेआम सवारी निकालते थे। पुलिस भी अपना सम्मान बचाने को अन्दर छिप जाती थी। थाने दलों के सत्तापक्ष के कार्यालय बन कर काम कर रहे थे। कोई यूपी नहीं आना चाहता था।

गरीबों की  जमीन पर कब्जे कर माफिया अपने मकान बनाते थे। वर्तमान सरकार में उन अवैध कब्जों को खाली कराकर उन पर गरीबों के लिए मकान बनवाए जा रहे हैं। सरकार का बुल्डोजर माफिया को नेस्तनाबूद कर रहा है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में नौकरियां देने में जमकर मनमानी होती थी। मेधा शक्ति हमेशा नजरअंदाज की जाती रही,  वर्तमान सरकार ने बिना विवाद के साढ़े चार लाख नौकरियां दी हैं। 3.50 लाख लोगों को संविदा में भर्ती के साथ 2 करोड़ लोगों के लिए ओडीओपी के तहत रोजगार के अवसर पैदा किए।

विकास की रोशनी से आज गरीब का जीवन भी रोशन हो रहा है। आयुष्मान योजना के तहत  गरीब को 5 लाख रुपए तक के उपचार की सुविधा  ने  उनकी बडी चिन्ता को दूर कर दिया है। सरकार की मंशा है कि कोई भूखा नहीं सोए इसलिए अब गरीब को 10 किलो फ्री राशन के साथ दाल और खाना पकाने के लिए तेल भी प्रदान किया जा रहा है। माताओंं और बहनों के सम्मान और गरिमा की रक्षा के लिए घर घर शौचालय का निर्माण कराया गया है।

अब उन्हे नित्यकर्म से निवृत्त होने के लिए रात के अंधेरे का इंतजार नहीं करना पडता है। लकडी पर खाना बनाने की प्रक्रिया में निकलने वाले धुए से होने वाली बीमारियों से माताओं बहनो को सुरक्षित करने के लिए उन्हे फ्री में गैस का कनेक्शन दिया है।  बिना किसी भेदभाव के प्रधानमंत्री आवास के तहत घर दिए गए हैं। सरकार ने बिना तुष्टीकरण के हर वर्ग  के कल्याण के लिए काम किया है।  यही सबका साथ सबका विकास है।

पढ़ें :- UP Election 2022: भाजपा ने जारी की 30 स्टार प्रचारकों की लिस्ट, केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी को रखा दूर

सामान्य वर्ग के लोगों के लिए आरक्षण की व्यवस्था की गई पर किसी के हक को कम नहीं किया गया। पिछली सरकार ने तो अनुसूचित जाति  की छात्रवृत्ति पर ही रोक लगा दी थी पर वर्तमान सरकार ने उसे भी दिया है। डॉ. शर्मा ने कहा कि 2017 के पहले पश्चिमी उत्तर प्रदेश  में शांतप्रिय लोग पलायन  करने को मजबूर होते थे। मकानों पर दबंग/ अराजक तत्व कब्जा कर लेते थे।

व्यापारी भी चैन से व्यापार नहीं कर पाते थे। भाजपा की सरकार आने के बाद अपहरण और डकैती वाले यूपी में कानून का राज स्थापित हुआ।  पिछली सरकारों के समय में कांवड यात्रा पर अराजक तत्व पत्थर बरसाते थे पर अब उस यात्रा पर सरकार द्वारा हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा होती है। पहले यह केवल सुना था कि रावण वध के बाद भगवान राम जब अयोध्या लौटते हैं तो राम नगरी दीपो से जगमगाई थी ।

वर्तमान सरकार ने दीपोत्सव के आयोजन के साथ ही उसे चरितार्थ भी कर दिया है। यह काम विपक्ष की सरकारों ने नहीं किया क्योंकि मंदिर में जाना और टीका लगाना उनके लिए साम्प्रदायिकता का प्रतीक था।  आज बरसाना में रंगोत्सव  होता है तो काशी में बाबा का भव्य कारीडोर  भी बनकर तैयार है। सूबे की स्वास्थ्य व्यवस्था ने नई करवट ली है।  आज प्रदेश में 2 एम्स  व  33 मेडिकल कालेज बनकर तैयार है ।  प्रयास है कि हर जिले में मेडिकल कालेज हो जिससे लोगों को बेहतरीन उपचार मिल सके।

अपराधियों के अवैध तमंचों के बनने के  लिए बदनाम यूपी में अब असॅाल्ट राइफल पढ़ने के कारखाने लग रहे हैं।  डिफेन्स कारीडोर दुनियाभर में यूपी का नाम रोशन करेगा। यह बदलाव इसलिए है क्योंकि प्रदेश में ईमानदार व दमदार सरकार काम कर रही है।  शिक्षा के क्षेत्र में भी क्रान्तिकारी बदलाव आया। नकल माफिया के चंगुल से यूपी की शिक्षा व्यवस्था को मुक्त कराकर तकनीक के प्रयोग से  नकलविहीन परीक्षा कराई गई हैं।

आज यूपी नकल विहीन परीक्षा का नया माडल बन गया है और यहंा के बच्चों का गौरव बढ रहा है। उन्होंने कहा कि   कोरोना काल में दुनिया के बडे बडे देश कराह रहे थे तब यूपी की सरकार अपने नागरिकों की सुरक्षा कर रही थी। यूपी में आज स्थिति लगभग नियंत्रण में है जिसका कारण प्रदेश सरकार का कोरोना प्रबंधन है। पिछली सरकारें महामारी जैसी स्थिति में टीके के लिए विदेशों पर निर्भर रहती थीं।

पढ़ें :- Aparna Yadav, बोलीं- मैं राष्ट्र आराधना करने निकली हूं, मोदी-योगी की तारीफ

इस बार प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में पहली बाद देश में ही वैक्सीन का निर्माण हुआ और लोगों को फ्री में वैक्सीन लगाई गई। विपक्ष ने तो वैक्सीन को लेकर दुष्प्रचार भी किया। कोरोना काल में  केन्द्र व राज्य सरकार ने अपने लोगों को सुरक्षित करने के लिए युद्धस्तर पर काम किया है। भाजपा के कार्यकर्ता भी लोगों की मदद के लिए मैदान में थे पर विपक्ष के नेता घरों में छिप गए थे।

घरों से ही ट्विटर ट्विटर का खेल चल रहा था।  भाजपा के लिए सत्ता सेवा का जरिया है और कोरोना के समय भाजपा के लोगों ने इसी भावना से काम किया।  जनसभा से पहले अपार जनसमूह के बीच उप मुख्यमंत्री द्वारा लोगों को आयुष्मान कार्ड प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत चाबी किसानों को ट्रैक्टर तथा कृषि उपकरण आदि वितरण किया गया उससे पहले जिला प्रशासन हुआ शिक्षा विभाग के अधिकारियों के कार्यों की समीक्षा की तथा सरकार की योजनाओं का लाभ नीचे तक जनता को बगैर भेदभाव के पहुंचाने का निर्देश दिया जनसभा में जिला पंचायत अध्यक्ष दद्दन मिश्रा, विधायक रामफेर पांडे, राजा अलक्षेंद्र सिंह, रणवीर सिंह जिला प्रभारी, राहुल रस्तोगी ,व्यापारी बोर्ड के उपाध्यक्ष मनीष गुप्ता भी उपस्थित थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...