कंप्यूटर पर आप भी करते हैं ये काम तो हो सकते हैं इस बीमारी के शिकार, ऐसे करें बचाव

problems from work on computer
कंप्यूटर पर आप भी करते हैं ये काम तो हो सकते हैं इस बीमारी के शिकार, ऐसे करें बचाव

नई दिल्ली। अगर अप भी ऑफिस में घंटो बैठकर कंप्यूटर पर काम करते हैं तो आपको भी एक ऐसी परेशानी हो सकती है जिसे आप सोच भी नहीं सकते हैं। ऐसे में ज़रूरत है कि हमें सावधानी बरतनी चाहिए ताकि भविष्य में हमें ऐसी बीमारियों का शिकार ना होना पड़े। आइये जानते हैं हमें कंप्यूटर पर बैठकर किस तरह की परेशानी हो सकती है और हम इसका बचाव इस तरह से कर सकते हैं।

You Also Do This On A Computer Save Like This :

अक्सर हम जब भी काम करके रात को आराम करते हैं। उस समय हाथ अचानक से सुन्न हो जाते हैं। ये दिक्कत महिलाओं में सबसे अधिक पायी जा रही है। इस परेशानी को कार्पल टनल सिंड्रोम (CTS) कहा जाता है। ये सिंड्रोम लगातार 8-9 घंटे तक कंप्यूटर पर काम करने की वजह से हो रहा है। इस बीमारी में हाथ की उंगलियों से कलाई तक दर्द होता रहता है। धीरे-धीरे ये दर्द बढ़कर बाहों तक पहुंच जाता है।

CTS नामक बीमारी को लेकर विशेषज्ञों का कहना है कि ‘कलाई में एक मिडियन नर्व होती है, जिसके दबने से परेशानी उत्पन्न होती है। लगातार टाइपिंग करने से ये समस्या बढ़ती जाती है। इस बीमारी के सबसे अधिक शिकार 18 से 35 साल के लोग होते हैं। युवाओं को ये बीमारी सबसे ज्यादा इसलिए घेरती है क्योंकि वह दिनभर कंप्यूटर और लैपटॉप पर काम करते हैं।

ब्रिटेन में हुए एक शोध में पता चला कि यहां प्रति एक लाख लोगाें में से 120 महिलाओं और 60 पुरुषों को इस सिंड्रोम ने जकड़ रखा है। जब इन लोगों से काम के बारे में पूछा गया, तो ये लोग कंप्यूटर पर काम करना बताते हैं। इस सिंड्रोम से पीड़ित लोगों के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं।

अगर आप इस बीमारी से खूब का बचाव करना चाहते हैं तो एक घंटे लगातार टाइपिंग करने के बाद पांच मिनट का ब्रेक लें। रोजाना 10 मिनट हाथ खोलने और बंद करने का व्यायाम करें। इस व्यायाम को दिन में पांच बार करें।

नई दिल्ली। अगर अप भी ऑफिस में घंटो बैठकर कंप्यूटर पर काम करते हैं तो आपको भी एक ऐसी परेशानी हो सकती है जिसे आप सोच भी नहीं सकते हैं। ऐसे में ज़रूरत है कि हमें सावधानी बरतनी चाहिए ताकि भविष्य में हमें ऐसी बीमारियों का शिकार ना होना पड़े। आइये जानते हैं हमें कंप्यूटर पर बैठकर किस तरह की परेशानी हो सकती है और हम इसका बचाव इस तरह से कर सकते हैं। अक्सर हम जब भी काम करके रात को आराम करते हैं। उस समय हाथ अचानक से सुन्न हो जाते हैं। ये दिक्कत महिलाओं में सबसे अधिक पायी जा रही है। इस परेशानी को कार्पल टनल सिंड्रोम (CTS) कहा जाता है। ये सिंड्रोम लगातार 8-9 घंटे तक कंप्यूटर पर काम करने की वजह से हो रहा है। इस बीमारी में हाथ की उंगलियों से कलाई तक दर्द होता रहता है। धीरे-धीरे ये दर्द बढ़कर बाहों तक पहुंच जाता है। CTS नामक बीमारी को लेकर विशेषज्ञों का कहना है कि 'कलाई में एक मिडियन नर्व होती है, जिसके दबने से परेशानी उत्पन्न होती है। लगातार टाइपिंग करने से ये समस्या बढ़ती जाती है। इस बीमारी के सबसे अधिक शिकार 18 से 35 साल के लोग होते हैं। युवाओं को ये बीमारी सबसे ज्यादा इसलिए घेरती है क्योंकि वह दिनभर कंप्यूटर और लैपटॉप पर काम करते हैं। ब्रिटेन में हुए एक शोध में पता चला कि यहां प्रति एक लाख लोगाें में से 120 महिलाओं और 60 पुरुषों को इस सिंड्रोम ने जकड़ रखा है। जब इन लोगों से काम के बारे में पूछा गया, तो ये लोग कंप्यूटर पर काम करना बताते हैं। इस सिंड्रोम से पीड़ित लोगों के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। अगर आप इस बीमारी से खूब का बचाव करना चाहते हैं तो एक घंटे लगातार टाइपिंग करने के बाद पांच मिनट का ब्रेक लें। रोजाना 10 मिनट हाथ खोलने और बंद करने का व्यायाम करें। इस व्यायाम को दिन में पांच बार करें।