कुर्सी से नीचे गिरने से दबंग IPS अधिकारी देवाशीष की मौत

ips

जयपुर। मौत कब, किस रूप में आ जाए कोई भरोसा नहीं। कहावत है जो लिखा होगा वही होगा। शायद सही कहा गया है। क्योकि आप सोच सकते हैं कि 6 फीट की कुर्सी से गिरने से किसी की मौत हो सकती है लेकिन ऐसा ही हुआ। ड्यूटी के दौरान कुर्सी टूटने से महज छह फीट की उंचाई से नीचे गिरकर गंभीर घायल हुए एक युवा आईपीएस की आज जयपुर में मौत हो गई। उनके साथ ये हादसा करीब 10 महीने पहले हुआ था। तब से वे अस्पताल में भर्ती थे।

Young Ips Officer Death In A Incident In Rajasthan :

39 वर्षीय देवाशीष बिहार के रहने वाले थे। साल-2013 बैच के आईपीएस देवाशीष की हैदराबाद में ट्रेनिंग हुई। देवाशीष राजस्थान का कैडर मिलते प्रोबेशन पीरियड पर चल रहे थे। देवाशीष अगस्त 2016 से अजमेर जिले में सीओ ब्यावर सिटी के पद पर कार्यरत थे।

जनवरी 2017 में प्रसिद्ध ​तीर्थंनगरी पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर के महंत सोमपुरी के देहांत के बाद उत्तराधिकारी को लेकर विवाद हो गया था। तब आईपीएस देवाशीष को महंत सोमपुरी की अंतिम यात्रा की सुरक्षा में ड्यूटी पर तैनात किया गया था। 13 जनवरी को आईपीएस देवाशीष सुबह के समय ब्रह्मा मंदिर के बाहर सीड़ियों के पास चबूतरे पर अन्य अफसरों के साथ कुर्सी पर बैठे थे। तभी देवाशीष की कुर्सी टूट गई और वह चबूतरे से करीब छह फीट नीचे सिर के बल पर गिर गए। इससे वहां हड़कंप मच गया।

जयपुर। मौत कब, किस रूप में आ जाए कोई भरोसा नहीं। कहावत है जो लिखा होगा वही होगा। शायद सही कहा गया है। क्योकि आप सोच सकते हैं कि 6 फीट की कुर्सी से गिरने से किसी की मौत हो सकती है लेकिन ऐसा ही हुआ। ड्यूटी के दौरान कुर्सी टूटने से महज छह फीट की उंचाई से नीचे गिरकर गंभीर घायल हुए एक युवा आईपीएस की आज जयपुर में मौत हो गई। उनके साथ ये हादसा करीब 10 महीने पहले हुआ था। तब से वे अस्पताल में भर्ती थे।39 वर्षीय देवाशीष बिहार के रहने वाले थे। साल-2013 बैच के आईपीएस देवाशीष की हैदराबाद में ट्रेनिंग हुई। देवाशीष राजस्थान का कैडर मिलते प्रोबेशन पीरियड पर चल रहे थे। देवाशीष अगस्त 2016 से अजमेर जिले में सीओ ब्यावर सिटी के पद पर कार्यरत थे।जनवरी 2017 में प्रसिद्ध ​तीर्थंनगरी पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर के महंत सोमपुरी के देहांत के बाद उत्तराधिकारी को लेकर विवाद हो गया था। तब आईपीएस देवाशीष को महंत सोमपुरी की अंतिम यात्रा की सुरक्षा में ड्यूटी पर तैनात किया गया था। 13 जनवरी को आईपीएस देवाशीष सुबह के समय ब्रह्मा मंदिर के बाहर सीड़ियों के पास चबूतरे पर अन्य अफसरों के साथ कुर्सी पर बैठे थे। तभी देवाशीष की कुर्सी टूट गई और वह चबूतरे से करीब छह फीट नीचे सिर के बल पर गिर गए। इससे वहां हड़कंप मच गया।